पटना [जेएनएन]। Sharjeel Arrested: कन्‍हैया के बाद जवाहरलाल नेहरु विश्‍वविद्यालय (JNU) का एक छात्र एक बार फिर देशद्रोह के आरोपों से घिरा दिख रहा है। ताजा मामला जेएनयू के छात्र शरजील इमाम (Sharjeel Imam) के अलीगढ़ मुस्लिम विवि (AMU) में दिए एक भाषण सेे जुड़ा है, जिसमें वह असम को भारत से अलग करने की बात कह रहा है। आपत्तिजनक भाषण के बाद उसके खिलाफ सोमवार तक बिहार, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, असम, मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में देशद्रोह के मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। इन राज्‍योंं की पु‍लिस उसके पीछे पड़़ी़ थी। इसी बीच दिल्‍ली पु‍लिस नेे मंगलवार को उसे जहानाबाद में गिरफ्तार कर लिया। 

इसके पहले केंद्रीय जांच एजेंसियों ने शरजील इमाम के बिहार के जहानाबाद के काको स्थित पैतृक आवास पर तथा पटना के सब्‍जीबाग इलाके में छापेमारी की। उसके नेपाल भागने की आशंका को देखते हुए सीमावर्ती इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया था। उसकी लास्‍ट लोकेशन पटना में मिली थी। गिरफ्तारी से पहलेे पुलिस ने शरजील के भाई व एक दोस्‍त को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। माना जा  की है कि उनसे मिले सुराग गिरफ्तारी में सहाायक बने। 

शरजील इमाम का कथित वीडियो वायरल

विदित हो कि शरजील इमाम का एक कथित वीडियो वायरल हो गया है, जिसमें वह कहता है कि अगर संगठित लोग हों तो हम असम से भारत को हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं। फिर कहता है कि हमेशा के लिए नहीं तो एक-दो महीने के लिए तो असम को भारत से काट ही सकते हैं। वीडियों में वह लोगाेें से यह कहता दिख रहा है कि रेलवे ट्रैक पर इतना मलबा डालो कि हटाने में एक महीना लगे। असम को काटना हमारी जिम्मेदारी है। 

एएमयू में दिया था भाषण,  आधा दर्जन एफआइआर दर्ज

बताया जा रहा है कि शरजील ने उक्‍त भाषण अलीगढ़ मुस्लिम विवि (AMU) में दिया था। इसे लेकर उसके खिलाफ देशद्रोह व सांप्रदायिक नफरत फैलाने सहित कई गंभीर आरोपों में एफआइआर दर्ज किया गया है। उसके खिलाफ पहले अलीगढ़ में एफआइआर दर्ज किया गया। इसके बाद सोमवार तक उसके खिलाफ बिहार, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, असम मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में देशद्रोह के मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। शरजील को दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) आंदोलन का सूत्रधार भी माना जाता है। हालांकि, शाहीनबाग के प्रदर्शनकारी देश को बांटने संबंधी किसी बयान का समर्थन नहीं कर रहे।

भाई व दोस्‍त को हिरासत में लेकर पूछताछ

शरजील के जहानाबाद स्थित घर पर पुलिस ने शनिवार के बाद सोमवार की रात दोबारा दबिश दी। इस दौरान घर के तीन सदस्‍याेें को हिरासत में लेकर फिर पूछताछ की गई। पुलिस शरजील के भाई मुजम्मिल एवं एक दोस्‍त को हिरासत में लेकर पूछताछ की। जहानाबाद के एसपी मनीष कुमार ने पुलिस कारवाई की पुष्टि करते हुुुए बताया कि छापेमारी मेंं शरजील नहीं मिला। 

लास्‍ट लोकेशन पटना में मिला, छापेमारी

पुलिस शरजील की खोज में बिहार में लगातार छापेमारी करती रही। पुलिस ने बताया है कि शरजील की लास्‍ट लोकेशन पटना में रही थी। उसकी खोज पटना में भी की जा रही है। सोमवार को पटना के सब्‍जीबाग इलाके में उसकी खोज में छापेमारी की गई।

दिल्‍ली व मुंबई में भी खोज, बिहार-नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट

शरजील के नेपाल भाग जाने की आशंका को देखते हुए बिहार-नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था। इस सिलसिले में रक्‍सौल-वीरगंज सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई। उधर, उसकी खोज मुंबई व दिल्‍ली में भी की जा रही थी।  

जेएनयू प्रशासन ने मांगा स्‍पष्‍टीकरण

शरजील इमाम केे खिलाफ जेएनयू प्रशासन ने भी समन जारी किया है। जेएनयू प्रशासन ने देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होने को ले उससे तीन फरवरी तक स्पष्टीकरण मांगा है।

शरजील की मां बोली: पुलिस कर रही परेशान

इस बीच शरजील की मां अफशां रहीम ने कहा है कि शरजील इमाम के बयान को मीडिया ने तोड़-मरोड़ कर पेश कर रहा है और पुलिस परिवार को बेवजह परेशान कर रही है। परिवार को लगातार धमकियां मिल रहीं हैं। यह उनके मानवाधिकारों का उल्लंघन है। उन्‍हाेंने मांग की है कि पुलिस उनके परिवार को प्रताड़ित या परेशान नहीं करे। मां ने कहा कि उन्‍हें कानून में विश्वास है।

शरजील की मां ने कहा कि उन्‍होंने ऐसी परवरिश नहीं की है, जिससे उनका बेटा देशद्रोही बने। 

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस