पटना, जेएनएन। बिहार में पुलिस पदाधिकारी से लेकर एएसआई तक विशेष पुरस्‍कार से नवाजे जाएंगे। उन्‍हें 'मुख्‍यमंत्री-डीजीपी' के नाम से ट्रेनिंग के दौरान अवार्ड दिए जाएंगे। इसका अादेश डीजीपी गुप्‍तेश्‍वर पांडेय ने जारी किया है। इसके अलावा पुलिसकर्मियाें के तबादले की भी स्‍ट्रैटजी को चेंज किया गया है। पुलिस मुख्यालय ने पुलिसकर्मियों के तबादले से संबंधित नई नीति तय की है। डीजीपी ने इसका आदेश भी जारीकर दिया है।   

ट्रेनिंग में मिलेगा मुख्यमंत्री रिवाल्वर-पिस्‍टल

बिहार के राजगीर स्थित पुलिस मुख्यालय बिहार पुलिस अकादमी में प्रशिक्षण के दौरान अव्वल आने वाले सीधी भर्ती के उपाधीक्षक (डीएसपी) और प्रशिक्षु अवर निरीक्षक (एएसआइ) को विभिन्न अलंकरणों से पुरस्कृत करेगा। यह अलंकरण प्रतिवर्ष प्रशिक्षण पूरा करने वाले बैच के अव्वल प्रशिक्षुओं को दिया जाएगा। इनमें मुख्यमंत्री रिवाल्वर/पिस्टल, डीजीपी रैतिक तलवार व रैतिक बैटन शामिल है। 

पुलिस मुख्यालय ने इससे संबंधित विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिया। इसके अलावा पुलिस महानिदेशक की रैतिक तलवार, रैतिक बैटन से भी पुरस्कृत किया जाएगा। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि यह रिवाल्वर/पिस्टल डीएसपी व एएसआइ की निजी संपत्ति होगी। हालांकि, सेवानिवृति के बाद इसे रखने के लिए लाइसेंस लेना होगा। लाइसेंस नहीं लेने की स्थिति में इसे पुलिस अकादमी को लौटाना होगा। मृत्यु की स्थिति में परिवार को पुलिस अकादमी में रिवाल्वर/पिस्टल जमा करना होगा। 

पुलिसकर्मियों के तबादले की नई नीति तय

उधर, पुलिस मुख्यालय ने पुलिसकर्मियों के तबादले से संबंधित नई नीति तय की है। पुलिस मुख्यालय ने तबादले से संबंधित प्रक्रिया में आमूल-चूल परिवर्तन किया है। बिहार पुलिस की पांच विशेष इकाइयों में कार्यरत पुलिसकर्मियों की तैनाती और तबादले डीजीपी करेंगे। इसमें विशेष कार्यबल (एसटीएफ), आतंक निरोधी दस्ता (एटीएस), विशेष सुरक्षा दल (एसएसजी), पुलिस अकादमी, सिपाही प्रशिक्षण विद्यालय, निगरानी अन्वेषण ब्यूरो और लोकायुक्त कार्यालय के लिए विशेष योग्यता वाले चयनित कर्मियों की तैनाती डीजीपी के आदेश के बाद होगी। 

इसके अलावा बिहार पुलिस के विभिन्न प्रशिक्षण संस्थानों में प्रशिक्षकों एवं अनुदेशकों की तैनाती के लिए भी नए सिरे से नीति तय की गई है। इसी तरह डीएसपी, एएसआइ और सिपाही की नियुक्ति के बाद प्रशिक्षण के दौरान ली जाने छुट्टी से संबंधित नीति में भी बदलाव किया गया है। पुलिस मुख्यालय ने इससे संबंधित  दिशा-निर्देश भी जारी कर दिया है।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस