पटना सिटी। अगमकुआं आरओबी पर बाइक सवार दीपक यादव की हुई हत्या के बाद उसकी शव यात्रा में शामिल दोस्त राहुल जैकर उर्फ सूरज को खाजेकलां घाट पर गोलियों से छलनी किए जाने के मामले में शुक्रवार को भी पुलिस के हाथ खाली रहे। पुलिस को शक है कि पटना सिटी में कोई नया गैंग उभरा है, जिसने वर्चस्व बनाने के लिए दीपक और राहुल की हत्या की है। दोनों के आपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए पुलिस अब गिरोह के सरगना की पहचान में जुटी है। वारदात में एक लड़की के शामिल होने की बात भी सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि वह दीपक की प्रेमिका है। हालांकि पुलिस अभी तक उसकी पहचान नहीं कर पाई है।

दीपक चौक थाना क्षेत्र में सक्रिय था, ऐसे में चौक थाने की पुलिस की भी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। पुलिस बाइक पर एक साथ जा रहे दीपक और राहुल की बारी-बारी से हुई हत्या के पीछे के पीछे पुलिस को कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिले है।

अगमकुआं थानाध्यक्ष अभिजीत कुमार ने जिस लड़की के होने की बात सामने आ रही है उसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। दीपक की हत्या में जिन दो लोगों का नाम सामने आ रहा है उन तक पहुंचने के लिए छापेमारी जारी है। दोनों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बड़ी उपलब्धि होगी और राहुल हत्याकांड की गुत्थी भी सुलझाने में आसानी होगी। वहीं खाजेकलां थानाध्यक्ष सनोबर खान ने बताया कि राहुल के हत्यारों तक पुलिस जल्द पहुंचेगी। पूछताछ जारी है। मृतक राहुल के भाई प्रीतम कुमार द्वारा पांच अज्ञात के खिलाफ दर्ज करायी गयी प्राथमिकी में से किसी भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

पुलिस के माथे पर इस बात की भी चिता है कि दीपक और राहुल की हत्या को अंजाम देने वाला उसी गिरोह का यदि कोई है तो कौन है? उसकी अगली रणनीति क्या है? ऐसी कई बिंदुओं पर पुलिस जांच कर रही है। दीपक की जिस प्रेमिका के हत्या में शामिल होने की चर्चा है फिलहाल पुलिस उसके अक्स से भी अंजान है। सूत्रों का मानना है कि कई सवालों में उलझ चुके इस दोहरे हत्याकांड की गुत्थी जल्द नहीं सुलझी तो दीपक और राहुल के गिरोह का सदस्य किसी और वारदात को अंजाम दे सकता है। चौक, आलमगंज और खाजेकलां थानों की पुलिस सामंजस्य बैठा कर हत्यारे को बेनकाब करने में जुटी है।

सोमवार की रात अगमकुआं आरओबी पर हुई चौक के संतोषी माता की गली निवासी दीपक की हत्या के बाद बुधवार को उसके अंतिम संस्कार में राहुल गया था। खाजेकलां स्थित श्मशान घाट से निकलते वक्त अपराधियों ने अशोक चक्र गली निवासी राहुल के शरीर पर नाइन एमएम पिस्टल से नौ गोलियां दाग कर मौत के घाट उतार दिया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस