पटना, जेएनएन। पीएमसीएच की इमरजेंसी जल्द ही पहले से ज्यादा दुरुस्त दिखेगी। व्यवस्था को और मजबूत करने को लेकर चार नए मॉड्यूलर ओटी बनाए जाएंगे। नए ओटी को लेकर शनिवार को बीएमएससीआइएल की टीम ने इमरजेंसी की फॉल्स सीलिंग की जर्जर स्थिति को देखा। टीम विभागीय निर्देश के आलोक में निरीक्षण करने पहुंची थी।

अधीक्षक डॉ. राजीव रंजन प्रसाद ने बताया कि फॉल्स सीलिंग का निर्माण अगले सप्ताह से आरंभ हो जाएगा, जबकि चार नए मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर का निर्माण कुछ समय में शुरू हो जाएगा। इसके लिए बीएमसीआइएल की टीम कार्य कर रही है। चार नए ओटी के बनने से इमरजेंसी में सर्जरी के लिए ज्यादा परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

दिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (आइजीआइएमएस) में एफआइएजीईएस 2019 फेलोशिप के डॉक्टरों को शनिवार को लाइव प्रशिक्षण दिया गया। इसमें बिहार व अन्य प्रदेशों के आए डॉक्टरों ने कृत्रिम चीजों पर लेप्रोस्कोपिक विधि से ऑपरेशन किया।

आइजीआइएमएस सर्जिकल गैस्ट्रोइंट्रोलॉजी व लिवर विभाग की ओर से तीन दिवसीय फेलोशिप कार्यक्रम हो रहा है। शनिवार को फेलोशिप अभ्यर्थियों को देश के विशेषज्ञ चिकित्सकों ने लेप्रोस्कोपिक विधि से सर्जरी करने की शिक्षा एवं प्रशिक्षण दिया। डॉ. मनीष मंडल ने कहा कि फेलोशिप में बिहार, झारखंड, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों के चिकित्सक पहुंचे हैं। आइएजीईएस के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. सायनदेव दास गुप्ता, राष्ट्रीय सचिव डॉ. सुनील पोपट ने ऑपरेशन किया, इसका लाइव प्रसारण भी किया गया।

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप