पटना [राज्य ब्यूरो]। पटना के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों और छात्रों के लिए यह बड़ी खबर है। अगर घर में शौचालय नहीं है तो पढ़ाई मुश्किल में पड़ जाएगी। ऐसा हम नहीं, पटना नगर निगम का एक पत्र कह रहा है। नगर निगम ने एक शपथपत्र तैयार कराया जिसे पटना के सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूलों को भेजा गया है। पटना के सभी स्‍कूलों के प्राचार्यों, शिक्षकों व छात्र-छात्राओं को यह शपथ पत्र देना होगा कि वे और उनके परिवार के सदस्य खुले में शौच को नहीं जाते हैं।

पटना नगर निगम के अपर नगर आयुक्त की ओर से जिला शिक्षा पदाधिकारी को एक पत्र भेजा गया है। इसमें कहा गया है कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत ओडीएफ घोषित किए जाने के लिए निगम को लक्ष्य दिया गया है। आदेश के आलोक में नगर निगम के दायरे में आने वाले वार्डों में चल रहे सरकारी और निजी स्कूलों के प्राचार्यों, शिक्षकों और छात्रों से एक शपथ पत्र लिया जाना है। इसमें उन्हें घोषणा करनी होगी कि विद्यालय के छात्र, शिक्षक से लेकर परिवार के सदस्य तक खुले में शौच को नहीं जाते हैं। वे शौचालय का इस्तेमाल करते हैं।

निगम ने सभी स्कूलों के प्राचार्यों और प्राइवेट स्कूलों के प्रबंधन से यह जानकारी जल्द से जल्द निगम मुख्यालय को देने का आग्रह किया है। सरकारी स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं कि वे वांछित शपथ लेकर 15 दिन के अंदर निगम मुख्यालय को भेजें।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस