पटना [राज्य ब्यूरो]। बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा ने कहा कि शिक्षकों एवं कर्मचारियों के बकाया वेतन का भुगतान बारह दिनों के अंदर कर दिया जाएगा। विधान परिषद में सोमवार को शिक्षा के बजट पर वाद- विवाद में मंत्री ने कहा कि शिक्षकों और कर्मचारियों के बकाये वेतन की राशि बैंक खाते में भेजी जाएगी। सरकार शिक्षकों को मध्याह्न भोजन योजना की जिम्मेदारी से मुक्त करने पर गंभीरता से विचार कर रही है। इस योजना से जीविका जोड़ी जाएंगी। 

उन्होंने कहा कि प्रमंडल एवं जिला स्तर पर शिक्षा के बहुत सारे कार्यालय या तो स्कूल में चलाए जा रहे हैं या फिर किराए के मकान में चल रहे हैं। इससे कार्यों का निष्पादन करने में परेशानी होती है। सरकार इन जगहों पर शिक्षा विभाग का केन्द्रीयकृत कार्यालय बनाए जाएंगे। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत माध्यमिक शिक्षा का सर्वव्यापीकरण मुख्य उद्देश्य है।

इसके तहत पांच किमी की परिधि में उच्च और आठ किमी की परिधि में उच्च  माध्यमिक विद्यालय की सुविधा उपलब्ध की जाएगी।  शिक्षा मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रत्येक अनुमंडल में कम से कम एक डिग्री कॉलेज स्थापित करने का फैसला किया है। इसके लिए चालू वित्तीय वर्ष में 2000 लाख रुपये प्रस्तावित है।

By Ravi Ranjan