पटना, राज्य ब्यूरो। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को स्मार्ट सिटी योजना के तहत पटना जंक्शन के री-डेवलपमेंट प्लान (पुनर्विकास की कार्ययोजना) तथा मीठापुर इंस्टीट्यूशनल परिसर में शुरू होने वाली योजनाओं का स्थल निरीक्षण किया। उन्होंने मौके पर मौजूद संबंधित अधिकारियों को कई हिदायतें दीं। पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पटना जंक्‍शन के पास काफी जाम रहता है। स्‍टेशन आनेवाले यात्रियों को पार्किंग की समस्‍या रहती है। इसके लिए यहां खाली पड़ी जमीन पर मल्‍टी लेवल हब बनाया जाएगा। जहां व्‍यापार करनेवालों, पार्किंग और रेस्‍टॉरेंट सहित कई सुविधाएं विकसित की जाएंगी। कहा कि बगल में पहले से मल्टी लेवल पार्किंग की व्यवस्था है, लेकिन लोग उसका उपयोग नहीं कर रहे। हमने निर्देश दिया है कि मल्टी लेवल पार्किंग के ऊपर के हिस्से में रेस्टोरेंट बनाएं। हमने समीक्षा बैठक में कहा था कि ऊपर से और नीचे से भी रेलवे स्टेशन तक आवागमन की व्यवस्था सुनिश्चित करें। हमें जो डिजायन दिखाई गई है, उसके आधार पर यह काम किया जाएगा। यहां पर अच्छी बिल्डिंग बनेगी।

पांच मंजिला भवन बनेगा

पटना जंक्शन री-डेवलपमेंट प्लान के तहत उन्होंने प्रस्तावित मल्टी माडल सब-वे टू वाया मल्टी लेवल पार्किंग के बारे में जायजा लिया। जंक्‍शन के समीप खाली पड़े बकरी बाजार की जमीन पर मल्‍टी लेवल हब बनेगा। इसमें बेसमेंट सहित पांच मंजिला भवन होगा। इसमें नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर, भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि व बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के अध्यक्ष पंकज कुमार पाल ने प्रस्तावित प्रोजेक्ट के विभिन्न पहलुओं के बारे में उन्हें जानकारी दी।

मीठापुर इंस्टीट्यूशन विकास योजना

मुख्यमंत्री ने मीठापुर इंस्टीट्यूशन विकास  योजना का जायजा भी लिया। इस क्रम में वह सबसे पहले आर्यभट्टï ज्ञान विश्वविद्यालय परिसर पहुंचे। उन्होंने इस एरिया में स्थापित शैक्षणिक संस्थानों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने यह निर्देश दिया कि पूरेे इंस्टीट्यूशन परिसर की चारदीवारी का निर्माण कराएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मीठापुर तालाब परियोजना का कांसेप्ट बेहतर है। तालाब के चारों तरफ पौधे लगाएं, ताकि पूरा क्षेत्र हरियालीयुक्त हो। इस परिसर के सभी संस्थानों के लिए तालाब तक पहुंचने के लिए एक कामन संपर्क पथ बनाएं। तालाब में अधिक पानी होने पर उसके निकास की भी समुचित व्यवस्था की जाए। मीठापुर बस स्टैैंड से जिन बसों का आवागमन अभी हो रहा है, उन्हें भी शीघ्र नए बस स्टैैंड में शिफ्ट करें। परिसर के समीप स्थित पावर सब-स्टेशन को भी उन्होंने अन्यत्र स्थानांतरित करने को कहा।

नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर, बीएसईआइडीसी के प्रबंध निदेशक संजय कुमार सिंह ने एक प्रेजेेंटेशन के माध्यम से मीठापुर क्षेत्र के विकास तथा प्रस्तावित सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

मुख्यमंत्री के भ्रमण कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, मुख्यमंत्री के परामर्शी अंजनी कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, चंचल कुमार, मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण, विकास आयुक्त आमिर सुबहानी, पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा, शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार, ऊर्जा विभाग के सचिव संजीव हंस, मुख्यमंत्री के ओएसडी गोपाल सिंह व अन्य आला अधिकारी मौजूद थे।

Edited By: Sumita Jaiswal