पटना [जागरण टीम]। पेट्रोल-डीजल की मूल्यवृद्धि के खिलाफ संपूर्ण विपक्ष के भारत बंद के दौरान बिहार में हंगामा, तोडफ़ोड़, रोड़ेबाजी, आगजनी और उत्पात हुआ। पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, गया, पूर्णिया जैसे प्रमुख शहरों के चौक-चौराहों पर बंद समर्थक सुबह से ही जबरन बाजार और यातायात बंद कराते दिखे। ट्रेनों पर रोड़ेबाजी की गई। स्टेशन और रेल पटरी पर प्रदर्शनकारियों ने उत्पात मचाया।
मुजफ्फरपुर शहर के अहियापुर में फायरिंग में एक व्यक्ति जख्मी हो गया। वहीं, गरहां चौक पर एक मरीज की मौत हो गई। आरोप है कि बंद समर्थकों ने उसके साथ मारपीट की। जहानाबाद में भी जाम में फंसने से एक बीमार बच्ची की मौत की खबर आई, लेकिन बाद में यह कहा गया कि बंद समर्थकों ने उसके वाहन को नहीं रोका था। नवादा में तो बंद समर्थकों ने एसपी की गाड़ी को रोक दिया। प्रजातंत्र चौक पर बंद समर्थकों के साथ हुई झड़प में एक युवक का सिर फट गया। इसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज कर बंद समर्थकों को खदेड़ दिया। पूरे राज्य से 678 प्रदर्शनकारियों और उत्पात मचाने वालों को गिरफ्तार किया गया है।

पटना में सड़क पर विपक्ष के प्रमुख नेता
कांग्रेस, राजद, हम, सपा और राकांपा के साथ ही वामदलों और विपक्ष के दूसरे प्रमुख नेता राजधानी पटना में सड़क पर उतरे और केंद्र की नीतियों का जमकर विरोध किया। डाकबंगला चौराहा, इनकम टैक्स गोलंबर, अशोक राजपथ, पटना जंक्शन जैसे इलाके पूरी तरह से प्रदर्शनकारियों के कब्जे में रहे। अलग-अलग राजद नेता तेजस्वी यादव, कांग्रेस नेता डॉ. शकील अहमद, प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी, पूर्व राज्यपाल डॉ. निखिल कुमार, डॉ. मदन मोहन झा, प्रेमचंद मिश्रा जैसे नेताओं प्रदर्शनकारियों को संबोधित किया।

घंटों बंद समर्थकों के कब्जे में रहे पटना के चौराहे
पटना का डाकबंगला चौराहा साढ़े तीन घंटे तक बंद समर्थकों के कब्जे में रहा। बंद का विरोध कर रहे पप्पू यादव के समर्थकों ने डाकबंगला चौराहे पर हंगामा किया। राहगीरों और वाहन चालकों से मारपीट की। अशोक राजपथ और पटना विश्वविद्यालय परिसर में भी कर्फ्यू जैसे हालात रहे।
छपरा के सोनपुर में गौतम चौक पर कांग्रेस-राजद और भाजपा कार्यकर्ताओं की भिड़ंत हो गई। दोनों ओर से रोड़ेबाजी और चार-पांच राउंड हवाई फायङ्क्षरग की गई। जहानाबाद में बंद समर्थकों ने जनशताब्दी एक्सप्रेस को रोकने के साथ कोर्ट और रेलवे ट्रैक पर आगजनी की।

मुजफ्फरपुर में चली गोली, पिटाई से बीमार की मौत
मुजफ्फरपुर के अहियापुर के रामठाकुर गली में गोलीबारी में एक युवक घायल हो गया। जख्मी स्वयं प्रकाश चौधरी (20) दरभंगा के बिशनपुर पटोरी का रहनेवाला है। मुजफ्फरपुर के ही गरहां चौक पर ऑटो से अस्पताल जा रहे लक्ष्मण ठाकुर (55) बंद समर्थकों ने पीट दिया, जिससे उनकी मौत हो गई। बगहा के रामनगर में कांग्रेस के दो गुट आपस में भिड़ गए।
सीतामढ़ी में पीएम मोदी की शव यात्रा निकाली गई। शिवहर में बंद समर्थकों और विहिप -बजरंग दल कार्यकर्ताओं के बीच गाली गलौज और हाथापाई हुई। बहेड़ा बाजार में राजद कार्यकर्ताओं व दुकानदारों में झड़प हुई। कोसी परिक्षेत्र और सीमांचल में कटिहार और किशनगंज में बारिश के कारण बंद का असर फीका रहा। जगह-जगह ट्रेन रोकी गईं।

बंद समर्थक नेता बोले
- मोदी जी कहते थे कि आकाश को धरती पर ला दूंगा। अब चुप क्यों हैं? मोदी जी के शासन में तो तेल की कीमतें ही आसमान पर पहुंच गईं। अब कह रहे हैं 2022 तक कर दूंगा, लेकिन आप भूल रहे हैं कि जनता आपको दूसरा मौका नहीं देने जा रही। - तेजस्वी यादव, नेता प्रतिपक्ष
- मोदी जी और उनके नेता अभी अहंकार में चूर हैं। लोकतंत्र में ऐरोगेंस का कोई स्थान नहीं। जनता अच्छे-अच्छों का घमंड चूर कर देती है। मोदी जी समय सब देख रहा है। - डॉ. शकील अहमद, राष्ट्रीय प्रवक्ता कांग्रेस
- बंद को जनता ने अपना व्यापक समर्थन देकर साबित कर दिया है कि देश में मोदी सरकार को लेकर काफी नाराजगी है। आगामी चुनाव में जनता मोदी सरकार को बाहर का रास्ता दिखा देगी। - देवेंद्र प्रसाद, बिहार अध्यक्ष समाजवादी पार्टी


भाजपा नेता ने कहा कि सामूहिक उत्पात हुआ
सामूहिक उत्पात ही बंद का असली चेहरा था। राहुल गांधी राजघाट पर मानसरोवर का जल चढ़ाकर जिस भारत बंद का नेतृत्व करने निकले थे, उसमें इंदिरा गांधी की हत्या के बाद सिख मॉब लिंचिंग की सबसे बड़ी त्रासदी के मुख्य आरोपी कांग्रेस नेता सज्जन कुमार भी शामिल थे।
- सुशील कुमार मोदी, उप मुख्यमंत्री

पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतों में आज भी बढ़ोतरी हुई है-
पटना में कीमत
पेट्रोल: 86.98 रूपए/लीटर
डीजल: 78.92 रूपए/लीटर
दिल्ली में पेट्रोल 23 पैसे और डीज़ल 22 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है। आज दिल्ली में पेट्रोल 80.73 रु प्रति लीटर और डीज़ल 72.83 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। वहीं मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 88.12 रु प्रति लीटर मिल रहा है।

 

Posted By: Kajal Kumari