पटना, जेएनएन। दुर्गा पूजा को लेकर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पटना, इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (आइजीआइएमएस) सहित राजधानी के सरकारी अस्पतालों में तीन दिनों तक ओपीडी बंद रहेगी। शनिवार को अस्पतालों में दोपहर तक ओपीडी में मरीज देखे गए। जबकि रविवार होने के कारण छह अक्टूबर को छुट्टी रहेगी। जबकि सात एवं आठ अक्टूबर को विजयदशमी को लेकर ओपीडी बंद रहेंगी।

एम्स पटना के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह एवं आइजीआइएमएस के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मनीष मंडल ने बताया कि रविवार होने के कारण अस्पताल में तीन दिनों तक ओपीडी बंद रहेंगी। जबकि इमरजेंसी में रोस्टर के अनुसार डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई गई है। अन्य जरूरत के अनुसार डॉक्टर ऑन कॉल मरीजों की सुविधा को उपलब्ध रहेंगे।

एम्स पटना के मेडिकल कैंप 11 जगहों पर हुए आरंभ

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पटना की ओर से पटना के जलजमाव पीडि़तों की सेवा के लिए 11 जगहों पर मुफ्त चिकित्सा शिविर लगाए गए हैं। ये शिविर नौ अक्टूबर तक सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक संचालित होंगे। इसमें एम्स पटना के वरीय चिकित्सक जलजमाव पीडि़तों का इलाज करेंगे। चिकित्सा परामर्श देंगे। ये चिकित्सा शिविर दिनकर गोलंबर, प्रेमचंद रंगालय, बाजार समिति चौक, कुम्हरार पार्क, नेहरू नगर, गोसाईं टोला, मीठापुर बस स्टैंड, करबिगहिया, राजीव नगर रोड नंबर 10, जक्कनपुर, बाबा चौक एवं रवि चौक पर हैं।

इन कैंप में बाढ़ से होने वाली बीमारियों जैसे डायरिया, फेफड़ों का इंफेक्शन, चर्म रोग तथा अन्य रोगों के लिए सभी प्रकार की दवाइयां भी उपलब्ध कराई गई हैं। इस कैंप में हर दिन 30 से 40 डॉक्टर्स अलग-अलग सेंटर पर सुबह से शाम तक मरीजों को देखेंगे एवं दवा वितरण करेंगे। इससे पूर्व इस कैंप का शुभारंभ शनिवार को निदेशक डॉ. पीके सिंह ने किया। इस दौरान चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह, डॉ. रामजी सिंह, डॉ. अनिल कुमार, डॉ. वीणा सिंह, डॉ. योगेश, डॉ. संजीव, डॉ. अजीत, डॉ. अभ्युदय, डॉ. नीरज, डॉ. अमरजीत सहित अन्य भी थे।

 

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप