पटना। राजधानी के निजी अस्पतालों में ओपीडी और इमरजेंसी सेवाएं बहाल रहेंगी। आयुष्मान भारत के 40 निजी अस्पतालों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में जिलाधिकारी कुमार रवि ने यह निर्देश दिया। डीएम ने बैठक में कहा कि निजी अस्पतालों में कोरोना के पैसेंट आते हैं, तो इसकी सूचना अविलंब जिला प्रशासन को देना सुनिश्चित किया जाए, ताकि जाच की प्रक्त्रिया और अन्य अग्रेतर कार्रवाई तत्क्षण की जा सके। आयुष्मान भारत के मरीजों का मुफ्त में इलाज करने का निर्देश दिया गया गया है । लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए गलियों में मोटरसाइकिल से होगी गश्त: लाकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए अब गलियों मेम मोटरसाइकिल से गश्ती तेज करने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया। बोरिंग रोड और अशोक राजपथ जैसे महत्वपूर्ण स्थलों पर लगातार गश्त करने और रोस्टर के अनुसार मजिस्ट्रेट की तैनाती सुनिश्चित कराने को भी कहा गया है । डीएम ने बताया कि सब्जी मंडी में एनसीसी की भी प्रतिनियुक्ति की गई है। मंडी में सोशल डिस्टेंस मेंटेन कराने के लिए दुकानों की दूरी बढ़ाने, पार्किंग स्थल को दूर रखने और प्रवेश व निकास द्वार बनाने की व्यवस्था भी होगी। ठेला और ई-रिक्शा के माध्यम से सब्जी बेचने की व्यवस्था करने के लिए भी कहा गया है। मिलों में है 4863 टन गेहूं और 1315 टन आटा: कोरोना संकट में राशन की समस्या से निपटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगातार छापेमारी एवं दुकानों की जाच कराई जा रही है। इस क्त्रम में मंगलवार को 18 आटा मिल की जाच की गई। इन मिलों में गेहूं का स्टॉक 4863 टन तथा आटा का स्टॉक 1315 टन पाया गया। 39 खुदरा किराना दुकानों और 10 गैस एजेंसियों की जाच की गई । 43 जन वितरण प्रणाली दुकानों का निरीक्षण भी किया गया है। इसके अतिरिक्त खुला आटा, ब्राडेड आटा ,खाद्य तेल, चीनी ,नमक ,दाल, चावल ,आलू, प्याज, हरी सब्जी की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए दुकानदारों की समस्याएं सुनी गई। राहत केंद्रों पर 10995 लोगों को मिला भोजन : मंगलवार को आपदा राहत केंद्रों पर 369 व्यक्ति ठहरे। 10995 व्यक्तियों को राहत केंद्र पर बने सामुदायिक किचन से भोजन कराया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस