Move to Jagran APP

Bihar Politics: रामचरितमानस विवाद पर नीतीश ने दी RJD के मंत्री को नसीहत, कहा- तेजस्वी ने सबकुछ साफ कर दिया है

Ramcharitmanas Controversy बिहार के शिक्षा मंत्री डॉ चंद्रशेखर के रामचरितमानस को लेकर टिप्पणी पर विवाद के बाद नीतीश कुमार ने पहली बार सार्वजनिक तौर पर प्रतिक्रिया दी है। नीतीश कुमार ने कहा कि किसी भी धर्म पर टिप्पणी करना गलत है।

By Jagran NewsEdited By: Aditi ChoudharyPublished: Tue, 17 Jan 2023 01:03 PM (IST)Updated: Tue, 17 Jan 2023 01:03 PM (IST)
Bihar Politics: रामचरितमानस विवाद पर नीतीश ने दी RJD के मंत्री को नसीहत, कहा- तेजस्वी ने सबकुछ साफ कर दिया है
Bihar Politics: रामचरितमानस विवाद पर पहली बाहर बोले नीतीश कुमार, कहा- किसी भी धर्म पर टिप्पणी करना गलत

पटना, जागरण डिजिटल डेस्क। बिहार के शिक्षा मंत्री डॉ चंद्रशेखर (Dr Chandrashekhar) द्वारा रामचरितमानस (Ramcharitmanas Controversy) को लेकर टिप्पणी के बाद सियासी घमासान जारी है। एक तरफ राजद (RJD) ने अपने मंत्री के बयान का समर्थन किया है, तो वहीं जदयू (JDU) डॉ चंद्रशेखर से माफी की मांग को लेकर जिद पर अड़ी है। इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने पहली बार इस विवाद पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि किसी भी धर्म के बारे में बयान देना, उस पर टिप्पणी करना बिल्कुल गलत है, ऐसा नहीं होना चाहिए।

loksabha election banner

मुख्यमंत्री ने कहा कि धर्म के मामले में किसी को हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। सब अपने तरीके से धर्म का पालन करते हैं। सभी धर्म का पालन करने वालों को इज्जत मिलनी चाहिए। जिसको जिनकी पूजा करनी है करे। अब तो डिप्टी सीएम ने भी कह ही दिया है।

बिहार में महाराष्ट्र वाले खेला के सवाल को सीएम ने किया अनसुना

वहीं, बिहार में महाराष्ट्र की तरह सरकार टूटने की अटकलों को लेकर सवाल को नीतीश कुमार ने अनसुना कर दिया। मीडिया ने नीतीश कुमार से पूछा कि भाजपा कह रही है कि बिहार की जनता सीएम से नाराज है। इस सवाल पर सीएम ने कुछ जवाब नहीं दिया और दूसरे सवाल पर प्रतिक्रिया देने लगे।  

क्या है रामचरितमानस को लेकर पूरा विवाद

बता दें कि बिहार के शिक्षा मंत्री डॉ चंद्रशेखर ने हिंदू घर्मग्रंथ रामचरितमानस को नफरती ग्रंथ बताया था। नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए उन्होंने रामचरितमानस और मनुस्मृति को समाज को बांटने वाली पुस्तक बताया था। उन्होंने कहा कि रामचरितमानस समाज में नफरत फैलाती है। शिक्षा मंत्री के इस बयान की देशभर में खासी आलोचना हो रही है।

बिहार में भी होगा महाराष्ट्र वाला 'खेला'! भाजपा सांसद के दावे पर तेजस्वी बोले- जब पहले नहीं हुआ तो अब कैसे?

भागलपुर में शख्स ने दिखाया सिस्टम को आइना: कड़ाके की ठंड में नाले के गंदे पानी से बीच सड़क पर किया स्नान


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.