पटना [जेएनएन]। जब से राजद और जदयू का गठबंधन टूटा है तब से लेकर आज तक इन दोनों दलों की ओर से आरोप प्रत्यारोप की राजनीति खूब हो री है। जहां जदयू की ओर से नीरज कुमार, संजय सिंह राजद पर हल्ला बोलते है तो कहीं तेजस्वी यादव खुद अपने को आगे कर प्रत्यक्ष रूप से नीतीश सरकार पर हल्ला बोलते है। यह सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है।

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) दोनों दल एक दूसरे की हर दिन घोटालों की पोल खोल रहे हैं। जहां नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार के खिलाफ ट्विटर पर हल्ला बोल रखा है। वह नीतीश सरकार में हुए घोटाले को गिना रहे हैं। जवाब में जदयू भी ट्वीट कर लालू सरकार में हुए घोटालों की पोल खोल खोल रहे हैं।

रविवार को फिर तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। साथ ही कई घोटाले भी गिनाए है। तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए कहा कि अनेको घोटालों के सरताज व थेसिस चुराने वाले नीतीश चाचा अब भ्रष्टाचार से लड़ेंगे। उन्होंने जो घोटालों की लिस्ट दी है वह है- सृजन घोटाला, शौचालय घोटाला, बांध घोटाला, छात्रवृत्ति घोटाला, स्टेडियम घोटाला, स्कूल निर्माण घोटाला, दवा घोटाला, जननी घोटाला, एस्टिमेट घोटाला, बीपीएससी घोटाला, टॉपर घोटाला, लेक्चर्र घोटाला, पीएम आवास घोटाला।

गौर हो कि शनिवार को भी तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया था। उन्होंने एक मजेदार कार्टून पोस्ट करते हुए बिहार में भ्रष्टाचार और चूहों पर लग रहे आरोप पर उनकी व्यथा दिखाई थी। उन्होंने लिखा था कि 1000 करोड़ का बाध टूटे, करोड़ों की जब्त नौ लाख लीटर शराब गायब हों, करोड़ों की दवाई गायब हों, गरीबों का राशन गायब हो। नीतीश जी के कुशासनी राज में भ्रष्टाचार के दोषी चूहे ही होंगे। चूहे इनके झूठे आरोपों से परेशान हो पलायन कर कह रहे है अब नीतीश जी किसे दोषी ठहराएंगे।

इसके जवाब में जदयू के संजय सिंह ने लालू सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोपों की झड़ी लगा दी थी। उन्होंने लिखा कि 950 करोड़ का चारा खा गए। लाखों करोड़ों का अलकतरा गटक गए। प्रतिभाओं का हक मारकर मेधा घोटाला किया। आपके माता-पिता के जंगलराज की उपलब्धि भ्रष्टाचार और नरसंहार ही रही है न। आपके के झूठ से परेशान बिहार की जनता ने पूरे परिवार का सत्ता से पलायन करा दिया। इसके लिए भी नीतीश जी को दोषी ठहराएंगे क्या।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस