पटना [जेएनएन]। महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर चल रहे पेच के बीच विकासशील इंसान पार्टी (VIP) के अध्यक्ष मुकेश सहनी पटना लौट आए हैं। वहीं राजद नेता तेजस्वी सोमवार को पटना लौटेंगे। उधर पटना एयरपोर्ट पर मुकेश सहनी को मीडिया ने घेरा तो उन्होंने कहा कि महागठबंधन में सब ठीक है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस को लेकर गलत बात कही जा रही है। महागठबंधन के दलों में किसी तरह का मतभेद नहीं है। बता दें कि रविवार को ही कांग्रेस के बुलावे पर उपेंद्र कुशवाहा अचानक दिल्ली चले गए हैं। खास बात कि मुकेश सहनी खुद चुनाव मैदान में उतरेंगे। बता दें कि पहले उन्‍होंने कहा था कि मैं चुनाव नहीं लडूंगा। 

इधर पटना एयरपोर्ट पर वीआइपी के संयोजक मुकेश सहनी ने कहा कि 19 मार्च को महागठबंधन का प्रेस कॉन्फ्रेंस होगा। उसी समय सीटों की घोषणा की जाएगी। उन्होंने कहा कि महागठबंधन में सीटों और उम्मीदवारों की लिस्ट फाइनल है। किसी प्रकार की कोई प्रॉब्लम नहीं है। 

कांग्रेस में नाराजगी को लेकर पूछे गए एक सवाल पर मुकेश सहनी ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है। कांग्रेस के मन में कोई खटास नहीं है। कांग्रेस को लेकर जो बातें मीडिया में आ रही है, वह सही नहीं है। पूरी तरह आपसी मेल के साथ हमलोग हैं। 

इतना ही नहीं, उन्होंने अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि महागठबंधन के दबाव को देखते हुए हमने तय किया है कि मैं खुद चुनाव मैदान में उतरूंगा और महागठबंधन को मजबूत करूंगा। पटना एयरपोर्ट से सीधे वे पार्टी कार्यालय पहुंचे और संभावित सीटों को लेकर नेताओं के साथ विचार-मंथन किए। बाद में मीडिया से सहनी ने कहा कि उन्होंने खुद चुनाव मैदान में उतरने का फैसला किया है। सीट कौन सी होगी, इसका फैसला 19 मार्च को हो जाएगा। सोमवार को महागठबंधन के सभी सहयोगी दल शाम को सीटों और उन पर उतारे जाने वाले उम्मीदवारों को लेकर अंतिम बैठक करेंगे। इसके बाद मंगलवार की शाम तक सीटों के साथ ही प्रत्याशियों के नाम सार्वजनिक कर दिए जाएंगे।

सहनी ने कहा कि यह काम सोमवार को ही होता, परन्तु नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को विशेष कारणों से दिल्ली में रुकना पड़ा। इस वजह से प्रत्याशियों और सीट बंटवारे की तिथि एक दिन के लिए बढ़ाई गई है। वीआइपी नेता ने एनडीए में सीट बंटवारे पर कहा कि दोबारा हार के डर से भाजपा ने अपनी वैसी सीटें जदयू को सौंपी है, जिस पर वह मोदी लहर में भी नहीं जीत पाए थे। इस बार भी चुनाव में एनडीए को मुंह की खानी पड़ेगी। 

 

Posted By: Rajesh Thakur