पटना, जेएनएन। बिहार में पीट-पीटकर हत्‍याओं का सिलसिला लगातार जारी है। ताजा मामला नवादा का है, जहां डायन बताकर एक महिला की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या कर दी गई। उसे चाकू से गोदा भी गया। गांव के ही कुछ लोगों ने इस नृशंस वारदात को अंजाम दिया, जिसे जानकर आपकी रूह कांप जाएंगी। वारदात को अंजाम देने वाले दबंग महिला को ढ़ाई साल की एक बच्‍ची की मौत के लिए जिम्‍मेदार मान रहे थे। वे बच्‍ची को जिंदा करने का दबाव डाल रहे थे। ऐसा नहीं कर पाने पर दबंगों ने महिला को सरेआम पीट-पीटकर मार डाला।

महिला के पति ने 12 लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है। उनमें से चार (नरेश मांझी, कारु मांझी, सुरेश मांझी और बिरजू मांझी) को गिरफ्तार कर लिया गया है।

डायन का आरोप लगा महिला को पीटकर मार डाला
नवादा में प्रदीप मांझी उर्फ पिंटू मांझी की ढाई साल की बेटी विनीता कुमारी की तबीयत पिछले चार दिनों से खराब थी। उसे उल्टी-दस्त हो रहे थे। सोमवार को रांची में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों व ग्रामीणों का मानना था कि उक्त महिला ने ही जादू-टोना कर उसकी जान ली।

मृत बच्ची को जीवित करने का बनाया दबाव
परिजन बच्ची का शव लेकर गांव पहुंचे। मंगलवार सुबह नौ बजे महिला गांव के ही चापाकल पर पानी लाने गई। उन्हें घेरकर कुछ लोग मृत बच्ची को जीवित करने का दबाव बनाने लगे। डायन का आरोप लगाते हुए उत्तेजित लोग लाठी-डंडे से पिटाई करने लगे। वह गंभीर रूप से घायल हो गई। बाद में उसकी मौत हो गई।

दो दशक से चल रहा था प्रताड़ना का दौर
महिला के पुत्र का आरोप है कि गांव के कुछ लोग डायन बताते हुए उनकी मां को अक्सर प्रताड़ित करते थे। पिछले दो दशक से प्रताड़ना का दौर चल रहा था। मगरूर लोग मां के साथ आए दिन मारपीट करते। मंगलवार सुबह तो हद ही हो गई।

चार गिरफ्तार, शेष की तलाश जारी
थानाध्यक्ष ज्योति पुंज ने बताया कि महिला के पति ने 12 लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है। उनमें से चार (नरेश मांझी, कारु मांझी, सुरेश मांझी और बिरजू मांझी) को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। इस मामले में कड़ी कार्रवाई होगी।

लगातार एक सप्‍ताह से हो रहीं ऐसी हत्‍याएं
विदित हो कि बिहार में बीते कुछ दिनों से भीड़ द्वारा कानून हाथ में लेकर खुद ही 'इंसाफ' करने की प्रवृत्ति जोर पकड़ती दिखी है। बीते एक सप्‍ताह के दौरान ऐसी कई घटनाओं ने कानून-व्‍यवस्‍था को लेकर सवाल खड़े किए हैं। गुरुवार को छपरा में मवेशी चोरी के आरोप में तीन कथित चोरों की हत्‍या के बाद वैशाली में भी ऐसी दो घटनाएं सामने आईं। वहां बैंक लूट के आरोप में एक युवक की पीट-पीट कर हत्‍या कर दी गई। साथ ही मंदिर में चोरी के आरोप में एक महिला को निर्वस्‍त्र कर पीटा गया।

आगे रविवार को सुपौल में युवती की हत्या से उग्र ग्रामीणों द्वारा युवक की भी पीटकर हत्‍या तथा पटना में एक युवक की हत्‍या के बाद आरोपित के घर पर भीड़ का हमला किया गया। इसके एक दिन पहले शनिवार को भभुआ में चोरी के आरोप में युवक की पिटाई की गई। दरिंदों ने उसे न केवल पीटा, बल्कि गुप्तांग पर पेट्रोल डाल यातना भी दी।

इसके बाद पटना के फुलवारीशरीफ में प्रेम-प्रसंग में इंटर के एक छात्र की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। हत्‍या कर फेंका गया उसक शव पटना के परसा बाजार थाना क्षेत्र में न्यू एतवारपुर के पास रेलवे ट्रैक के किनारे सोमवार की सुबह मिलने के बाद सनसनी फैल गई। स्थानीय लोगों के अनुसार अभिषेक का किसी लड़की से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। शनिवार को लड़की का फोन आने पर अभिषेक घर से निकला था। शव को देखने से लग रहा था कि अभिषेक को बंधक बनाकर पहले उसकी जमकर पिटाई की गई, फिर गला दबाकर हत्या कर दी गई। पूरे शरीर पर चोट के निशान मिले।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप