पटना, जेएनएन ।

दैनिक जागरण के ‘माय सिटी माय प्राइड’ अभियान की मुहिम रंग लाने लगी है। शहर को बेहतर बनाने के लिए आए तमाम सुझावों और मुद्दों पर काम के लिए कई संगठन आगे आए हैं। नगर निगम भी सहयोग के लिए आगे आया है। शनिवार को जागरण कार्यालय में आयोजित राउंड टेबल कांफ्रेंस (आरटीसी) में हेल्थ,एजुकेशन,इंफ्रास्ट्रक्चर,इकोनॉमी और सेफ्टी पिलर से जुड़े मुद्दों पर होने वाले काम पर चर्चा की गई।

इनर व्हील क्लब बनाएगा दो हैप्पी स्कूल

इनर व्हील क्लब एजुकेशन पिलर के तहत राजधानी के दो सरकारी स्कूलों को 'हैप्पी स्कूल’ बनाएगा। जागरण की पहल पर क्लब फुलवारीशरीफ के मुरलीचक प्राइमरी स्कूल और उफरपुरा प्राइमरी स्कूल को गोद लेगा। इनर व्हील क्लब ऑफ पटना की प्रेसिडेंट विभा चरण पहाड़ी ने कहा कि हैप्पी स्कूल के तहत सरकारी स्कूलों में आधारभूत संरचना को दुरुस्त किया जाएगा। इन स्कूलों में बच्चों के लिए बेंच-डेस्क,शिक्षकों के लिए कुर्सी-टेबल की व्यवस्था की जाएगी। दीवारों पर पेंटिंग बनाई जाएगी। शौचालय और पेयजल की व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी। बच्चों केलिए छोटी ही सही, लाइब्रेरी बनाई जाएगी। इसके लिए अलमीरा और किताबें दोनों स्कूलों को दी जाएगी।

निगम बनवाएगा 500 से अधिक शौचालय

वार्ड पार्षद सह मेयर प्रतिनिधि सुचित्रा सिंह ने कहा कि पटना नगर निगम इंफ्रास्ट्रक्चर पिलर के तहत विभिन्न वार्डों में 500 से अधिक सामुदायिक शौचालय बनवाएगा। भविष्य में इन शौचालयों के साथ महिलाओं और लड़कियों की सुविधा के मद्येनजर सैनेटरी नैपकिन वेंडिग मशीन भी लगाई जाएगी। जागरण के सुझाव पर पहले चरण में पटना के मुख्य बाजार में सामुदायिक शौचालय बनाए जाएंगे। इन शौचालयों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। राजधानी के विभिन्न वार्डों में अभी 30,000 से अधिक स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं। बहुत जल्द 75,000 से अधिक स्ट्रीट लाइट लगेगी। सभी गोलंबरों के नजदीक पोल नीले रंग से रंगे जाएंगे। आगे भी जागरण की पहल पर काम करने की कोशिश की जाएगी।

एनएमसीएच में लावारिस वार्ड खोलेगा खत्री समाज

खत्री समाज हेल्थ पिलर के तहत लावारिस वार्ड खोलेगा। इसके लिए पटना सिटी स्थित गुरु गोविंद सिंह अस्पताल या नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल प्रशासन से बातचीत की जाएगी। खत्री समाज के अध्यक्ष बीएन कपूर ने कहा कि अगर अस्पताल प्रशासन वार्ड मुहैया करा दे तो लावारिस मरीजों की सेवा के लिए स्टाफ से लेकर खाने-पीने की सामग्री खत्री समाज की ओर से मुहैया कराई जाएगी। इसके अलावा खत्री समाज मंगल तालाब को गोद लेकर भी साफ सफाई करा रहा है। सिटी के इलाकों में डस्टबिन भी लगाए जाएंगे ताकि शहर साफ दिखे। सफाई को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। जागरण के राउंड टेबल कांफ्रेंस से निकले अन्य मुद्दों पर भी खत्री समाज यथासंभव काम करेगा।

वार्ड स्तर पर पॉली क्लीनिक खोलेगी रेड क्रॉस सोसाइटी

अंतरराष्ट्रीय संस्था रेडक्रॉस सोसाइटी हेल्थ पिलर के तहत नगर निगम के सभी 75 वार्डों में पॉली क्लीनिक की स्थापना करेगा। इसके लिए पटना नगर निगम की मेयर सीता साहू को सोसाइटी ने पत्र भी लिख दिया है। रेडक्रॉस सोसाइटी के डॉ.विनय बहादुर सिन्हा ने कहा कि सभी वार्ड पार्षदों की मीटिंग बुलाने के लिए समय मांगा गया है। देश की राजधानी नई दिल्ली सफल हो चुके मोहल्ला क्लीनिक की तर्ज पर पहले पटना के पांच से छह वार्डों में पायलट प्रोजेक्ट के तहत पॉली क्लीनिक शुरू की जाएगी। फिर इसकी संख्या बढ़ाई जाएगी।

इसके लिए डॉक्टर और टेक्नीशियनों की व्यवस्था रेडक्रॉस सोसाइटी करेगी। उन्होंने कहा कि अभी रेडक्रॉस सोसाइटी के द्वारा अत्याधुनिक ब्लड बैंक चलाया जा रहा है। बच्चों के मुफ्त टीकाकरण की भी सुविधा दी जा रही है। सोसाइटी पटना सिटी के मंगल तालाब के पास भवन दिये जाने प वहां भी टीकाकरण और पॉली क्लिनिक की स्थापना करेगी।

सेनेटरी वेंडिंग मशीन लगाएगा लायंस क्लब

लायंस क्लब महिलाओं के सेहत को लेकर काम करने का इच्छुक है। जागरण की पहल पर क्लब ने राजधानी के विभिन्न कॉलेजों में सेनेटरी वेंडिंग मशीन लगाने की योजना बनाई है। लायन्स क्लब की डायरेक्टर रीता सिन्हा ने कहा कि एक मशीन को लगाने में लगभग सात से आठ हजार रुपये का खर्च आता है। उन्होंने कहा कि हमारा क्लब अपने फंड से तो ये काम करेगा ही,हम विभिन्न कंपनियों के अधिकारियों से भी मिल रहे हैं और उनके सीएसआर के तहत ये काम करवाएंगे।

राजधानी में बने पब्लिक टॉयलेट में सेनेटरी नैपकिन वेंडिग मशीन लगाने की योजना है। इसके लिए पटना नगर निगम की मेयर सीता साहू को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा गया है। इस वेंडिंग मशीन में पांच रुपये देने पर सेनेटरी नैपकिन मिलेगी। छात्राओं और महिलाओं को स्वस्थ रखने में यह कारगर कदम साबित होगा।

युवा आंत्रप्रेन्योर को गाइड करेगा बीआइए

बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (बीआइए) इकोनॉमी पिलर में शहर को मजबूत बनाने की दिशा में काम करेगा। अभी बुद्ध मार्ग स्थित बीआइए बिल्डिंग में इंक्यूबेशन सेंटर चल रहा है। बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के चेयरपर्सन मनीष तिवारी ने कहा कि युवा आंत्रप्रेन्योर सिर्फ आइडिया लेकर आएं। वर्किंग स्पेस से लेकर उनके कंपनी के रजिस्ट्रेशन और अन्य सारी प्रक्रियाएं पूरी करने में बीआइए सहयोग करेगा। 10वीं और 12वीं पास छात्रों को निश्शुल्क कंप्यूटर ट्रेनिंग भी दी जाएगी। सीएसआर के तहत भी जागरण से मिले सुझावों पर बीआइए आगे बढ़कर मदद करेगी।

महिलाओं को कुशल बना रोजगार देगा चैंबर ऑफ कॉमर्स

बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स जागरण की सोच से बिल्कुल इत्तेफाक रखता है और शहर को बेहतर बनाने के लिए लगातार पहल कर रहा है। हम महिलाओं के कौशल विकास पर काम कर रहे हैं। बिहार चैंबर ऑप कॉमर्स के पूर्व कोषाध्यक्ष सुबोध कुमार जैन ने कहा कि महिलाओं को कंप्यूटर ट्रेनिंग,सिलाई-कढ़ाई मेंहदी सहित अन्य प्रकार का प्रशिक्षण देने के साथ ही रोजगार उपलब्ध कराने का भी कार्य किया जाता है। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में अशोक राजपथ पर लोगो को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए चैंबर ऑफ कॉमर्स की ओर से बोरिंग करवाई जा रही है।

साइंस कॉलेज में स्टेडियम बनाने की पहल

जागरण के राउंउ टेबल कांफ्रेंस में उठाए गए कई मुद्दों पर पटना विश्वविद्याल छात्र संघ की ओर से काम किया जा रहा है। पटना विश्वविद्यालय के निवर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज ने कहा कि हमने केंद्रीय संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद जो कि खुद पटना विश्वविद्यालय के पूर्ववर्ती छात्र हैं, से मिलकर चार कॉलेजों में शौचालय निर्माण के लिए राशि आवंटित कराई है। इसके अलावा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह से पटना

साइंस कॉलेज में स्टेडियम निर्माण के लिए एक करोड़
की राशि मांगी है। पीयू छात्र संघ की मांग के बाद पीयू कैंपस में चार स्थानों पर वाटर कूलर और करीब 100 स्थानों पर डस्टबिन लगाए गए हैं। कॉलेजों में महिला सुरक्षा को लेकर भी छात्र संघ की पहल पर अतिरिक्त फोर्स मुहैया कराई गई है।

स्कूली छात्राओं को आत्मरक्षा सिखाएगा प्रेमा फाउंडेशन

मां प्रेमा फाउंडेशन माय सिटी माय प्राइड के सेफ्टी पिलर पर काम करेगा। फाउंडेशन की जयशंकर सिंह ने कहा कि हमारी ओर से अभी तक राजधानी के विभिन्न सरकारी कॉलेजों की छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दी गई है। उन्होंने कहा कि अब हम सरकारी स्कूलों की छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाएंगे। टाइगर एकेडमी ऑफ मार्शल आर्ट के ब्लैक बेल्ट प्राप्त प्रशिक्षको के द्वारा दिया छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दी जाती है,ताकि वे छेड़खानी या छोटे-मोटे अपराध से खुद निपट सकें।

अदालतगंज तालाब को गोद लेगा कॉफ्फेड

मछुआरों के हित में काम करने वाली संस्था कॉफ्फेड राजधानी के अदालतगंज तालाब को गोद लेगी। कॉफ्केड के प्रबंध निदेशक ऋषिकेश काश्यप ने कहा कि इसके लिए सबसे पहले अदालतगंज तालाब को अतिक्रमण से मुक्त कराया जाएगा। हम इसमें प्रशासन का भी सहयोग चाहेंगे। हमने तालाब के सुंदरीकरण का खाका तैयार कर लिया है। तालाब में गिरने वाले गंदा पानी रोकने के साथ ही अलग से बोरिंग कराकर ताजा पानी से तालाब को भरा जाएगा। उन्होंने कहा कि तालाब के चारों ओर फुटपाथ बनवाने के साथ ही बैठने के लिए सीमेंटेड बेंच एवं स्ट्रीट लाईट की व्यवस्था की जाएगी। तालाब में मछली पालन किया जाएगा जिससे पानी में मौजूद डेंगू और मलेरिया के लार्वा मर जाएं।

स्लम एरिया के बच्चों को पढ़ाएगा प्रहरी

प्रहरी संस्था स्लम इलाकों के बच्चों को शिक्षा मुहैया कराएगा। संस्था के अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि जागरण की पहल पर हम जल्द ही चितकोहरा पुल के नीचे गुलगुलिया टोला के बच्चों को शिक्षा से जोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि बच्चों के अभिभावकों को भी जागरूक किया जाएगा। यहां के बच्चों के बीच स्कूल ड्रेस,किताब-कॉपी, बैग सहित अन्य सामग्रियों का मुफ्त वितरण किया जाएगा। इसके अलावा शास्त्रीनगर,आशियाना नगर आदि इलाकों में पहले से चल रहे पांच सेंटरों से भी नए बच्चों को जोड़ेगी।

हर वार्ड में मुफ्त आंखों का इलाज करेगा साईं नेत्रालय

कंकड़बाग स्थित साई नेत्रालय कैम्प लगाकर मुफ्त आंखों की जांच और इलाज करेगा। साई नेत्रालय के अशोक कुमार ने कहा कि पटना जागरण के ‘माय सिटी माय प्राइड’ अभियान से प्रभावित होकर हमने पटना में सात स्थानों पर विजन सेंटर स्थापित करने का निर्णय लिया है। यहां आंखों से जुड़ी बीमारियों की जांच की जाएगी। जरूरत पड़ने पर मरीजों का उपचार भी किया जाएगा। इसके साथ ही पटना नगर निगम के प्रत्येक वार्ड में मेगा कैंप लगाया जाएगा। इसके अलावा पहले से चल रहे काम भी जारी रहेंगे। साई नेत्रालय के द्वारा जांच शिविर में आने वाले लोगों को दवा के साथ मुफ्त चश्मा भी मुहैया कराया जाएगा।

हर रविवार को कैंप लगाकर करेंगी जागरूक

वहीं पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (पीएमसीएच) की सहायक प्राध्यापिका डॉ. अरुंधति ने कहा कि डायबिटीज की बीमारी तेजी से बढ़ रही है। पटना के लोगों को इसके प्रति जागरूक करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मैं प्रत्येक रविवार को राजधानी के विभिन्न पार्को में कैंप लगाकर डायबिटीज के प्रति जागरूकता का काम करूंगी। राजा बाजार में मेरा क्लीनिक भी है और वहां भी मैं वरिष्ठ नागरिकों, बच्चों और महिलाओं का रियायत दर पर इलाज करती हूं। उन्होंने कहा कि अभी मैं अकेले काम कर रही हूं। जागरण की पहल पर अब मैं कुछ और लोगों को अपने साथ जोड़ने पर विचार कर रही हूं ताकि अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच कर शहर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकूं।

 

By Krishan Kumar