पातेपुर (वैशाली), संवाद सूत्र। पातेपुर थाना क्षेत्र के मंडई डीह गांव से दिल्ली पुलिस ने पातेपुर थाना की पुलिस के सहयोग से हत्या के मामले में आरोपित एक महिला को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के बाद दिल्ली पुलिस ने महिला को हाजीपुर सिविल कोर्ट में पेश किया। इसके बाद ट्रांजिट रिमांड पर अपने साथ दिल्ली लेकर चली गई। घटना का मुख्‍य कारण छेड़खानी है। 

पत्‍नी की मौत के बाद लड़की को भगा ले गया था नवीन सिंह 

पातेपुर थानाध्यक्ष रामशंकर कुमार एवं हत्या के मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस पदाधिकारी श्रवण कुमार ने बताया कि थाना क्षेत्र के गांड़ा असवारी गांव निवासी 47 वर्षीय नवीन सिंह की पत्‍नी की मौत हो गई थी। इसके बाद वह थाना क्षेत्र के मंडई डीह गांव की एक लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसा कर यहां से भगाकर दिल्ली लेकर चला गया था। वहां दोनों किसी कंपनी में काम कर रहे थे। इसी दौरान नवीन सिंह का दोस्त दिल्ली के मेट्रो विहार निवासी राज उर्फ राजकुमार का इसके घर आना-जाना शुरू हो गया।

25 जून को गायब हो गया था युवक 

इधर 25 जून को राजकुमार अचानक गायब हो गया। इसपर  युवक के स्वजनों ने स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। दो दिन बाद  28 जून को केएन कांडजु थाना क्षेत्र में एक नाले में उस युवक का शव बरामद किया गया। पुलिस मामले की जांच कर रही थी। इसी क्रम में उसने नवीन सिंह समेत उसकी प्र‍ेमिका और मकान मालिक के बेटे की संल‍िप्‍तता का पता चला।  दिल्ली पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर पातेपुर थाना की पुलिस के सहयोग से उस लड़की को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के बाद सिविल कोर्ट में पेशी के बाद दिल्ली लेकर चली गई। 

छेड़खानी की घटना के विरोध में दिया घटना को अंजाम 

पूछताछ में आरोपित लड़की ने पुलिस को बताया कि 25 जून की रात राजकुमार नशे में धुत होकर पहुंचा था। उसने उसके साथ बदसलूकी की। छेड़खानी की घटना से गुस्‍साए नवीन सिंह, मकान मालिक के बेटे और उस लड़की को यह बात नागवार गुजरी। उनलोगों ने मिलकर राजकुमार को और शराब पिलाई। इसके बाद हाथ-पैर बांधकर उसका गला घोंट दिया। फिर नाले में शव फेंक दिया। इस मामले में युवती का आरोपित पति अभी तक फरार है। 

 

Edited By: Vyas Chandra