फुलवारीशरीफ (पटना), संवाद सूत्र। Liquor Party in Patna शराबबंदी पर सरकार की पूरी सख्‍ती के बाद भी राजधानी पटना में लोग मान नहीं रहे। गर्दनीबाग इलाके में रविवार रात बकायदा शराब पार्टी चल रही थी। राजपूताना मोहल्‍ले में पांच को पुलिस ने शराब पार्टी करते गिरफ्तार किया। इनमें एक अधिकारी, प्रबंधक समेत अन्‍य लोग शामिल हैं। इन सभी ने शराब पी रखी थी। उनके पास से छह बोतल शराब भी बरामद की गई है। जांच में शराब पीने की पुष्टि होने के बाद सभी से पूछताछ की जा रही है। गिरफ्तार किए गए युवकों में यूपी के सोनभद्र, छपरा, दरभंगा और पटना के निवासी शामिल हैं। पुलिस अब इस बात का पता लगा रही है इनलोगों ने शराब कहां से मंगवाई थी। मामले में आरोपित ने खुद को न्यायिक पदाधिकारी बताकर पुलिस के सामने धौंस जमाने की कोशिश की। हालांकि जांच में उसकी बातें झूठ साबित हुई। न्यायिक पदाधिकारी सेवा संघ ने बताया कि आरोपित किसी प्रकार की ज्यूडिशियल सेवा से नहीं जुड़ा है। वहीं थानाध्यक्ष अरुण कुमार ने बताया कि मुकेश कुमार खुद को न्यायिक कार्य से जुड़ा कर्मी बता रहा था। 

राजपुताना मोहल्‍ले में चल रही थी शराब पार्टी

बताया जाता है कि पुलिस को सूचना मिली थी कि राजपुताना मोहल्‍ले में शराब पार्टी चल रही है। पुलिस ने इसके बाद छापेमारी की तो सूचना सही निकली। पुलिस को देखते ही शराब पी रहे युवकों के होश उड़ गए। वहां से पुलिस ने शराब भी बरामद की। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। मेडिकल जांच में उनके शराब पीने की पुष्टि हो गई। गर्दनीबाग थानाध्‍यक्ष अरुण कुमार ने बताया कि रविवार की रात शराब के नशे में धुत पांच युवक मिले थे। पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि राजपूताना इलाके में शराब की पार्टी की जा रही है। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मौके से पांच युवकों को गिरफ्तार किया था।  फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। इनकी कोरोना जांच भी कराई गई है। 

स्थानीय लोग ऐसी आशंका जता रहे हैं कि शराब होम डिलीवरी के माध्यम से मंगवाई गई है। क्योंकि शाम होते ही नाबालिग बच्चे इलाके में शराब की होम डिलीवरी करते दिखते हैं। इसकी भनक पुलिस को भी नहीं हो पाती है। इलाके में यदि सघन जांच अभियान चलाया जाए तो होम डिलीवरी करने वाले को भी पकड़ा जा सकता है।  

Edited By: Vyas Chandra