पटना, जेएनएन। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की एक और बेटी रोहिणी आचार्या के राजनीति में आने की खबरें इन दिनों मीडिया में तेजी से फैल रही हैं। कई मीडिया हाउस का दावा है कि मीसा की ही तरह लालू की दूसरी बेटी रोहिणी भी राजनीति में एंट्री की तैयारी में हैं और उनकी नजरें अगले साल होने वाले राज्यसभा चुनाव पर हैं। इन खबरों का रोहिणी ने खंडन किया है और मीडिया रिपोर्ट्स पर अपनी नाराजगी जतायी है। 

फेसबुक वॉल पर रोहिणी ने लिखा

 फेसबुक वॉल से इन खबरों का खंडन कर रोहिणी ने साफ कर दिया है कि उनका इरादा राजनीति में आने का नहीं है। रोहिणी ने लिखा है..साथियों राज्यसभा सीट को लेकर मेरा नाम जोड़ा जा रहा है। मैं स्पष्ट करना चाहती हूँ कि सक्रिय राजनीति में आने का मेरा कोई इरादा नहीं है। बिहार मेरा घर है। मेरी भावना है। मेरी जन्मभूमि है। जाहिर है आना-जाना लगा रहेगा। पापा और परिवार से मिलने पटना आती रहती हूँ। मेरे पटना आने को सांसद-विधायक बनने की महत्वाकांक्षा से न जोड़ा जाये। मीडिया वालों से अनुरोध है बिना जानकारी के कुछ भी न लिखें। 

रोहिणी ने ये भी लिखा कि यह जरूरी नहीं है कि सिर्फ सांसद , विधायक बनना ही राजनीति है। लोगों के हक - अधिकार के लिए आवाज उठाना सामाजिक एवं राष्ट्रीय कर्तव्य है। मैं राजनीतिक परिवार से हूँ, राजद सामाजिक न्याय की वकालत करने वाला ऐतिहासिक राजनीतिक दल है।

स्पष्ट है कि मैं पार्टी का समर्थन करती हूँ। सोशल मीडिया पर लिखना , लोगों की आवाज बुलंद करना ,पार्टी को सहयोग करना , पापा का ख्याल रखना , मीसा दीदी-तेज-तेजस्वी को सहयोग करना मेरा उद्देश्य है और यह मैं करती रहूँगी। बिहार मेरी जन्मभूमि है और इसके स्वाभिमान की रक्षा के लिए मैं आवाज उठाती रहूँगी। मीडिया वालों से अनुरोध है मनगढ़ंत बातों को न लिखें। 

मीडिया हाउस में ये किया जा रहा था दावा 

राजद से जुड़े सूत्रों से मिली जानकारी के बाद कुछ मीडिया हाउस ने दावा किया था कि अंदरखाने चल रही चर्चा के मुताबिक रोहिणी राज्यसभा में जाना चाहती हैं। दरअसल अगले साल यानि अप्रैल 2020 में बिहार से राज्यसभा की सीटें खाली हो रही हैं और इस चुनाव में राजद को एक सीट मिल सकती है।

 मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू यादव फिलहाल जेल में सज़ा काट रहे हैं लिहाज़ा अब वो चुनाव नहीं लड़ सकते। पत्नी राबड़ी देवी फिलहाल आईआरसीटीसी के मामले में जमानत पर हैं।बड़ी बेटी मीसा भारती राज्य सभा सांसद हैं लेकिन वह भी मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फंसी हुई हैं। जबकि छोटे बेटे तेजस्वी ईडी , इनकम टैक्स , के रडार पर हैं और वो भी जमानत पर हैं। बड़े बेटे तेजप्रताप को लालू परिवार ने ही लालू की विरासत संभालने लायक नहीं माना।

अब ऐसी स्थिति में लालू की दूसरी बेटी ने  कहा है  कि वो चुनावी राजनीति में आने को तैयार हैं। लालू की बेटी रोहिणी आचार्या से जब पूछा कि क्या वो राजनीति में आएंगी ? इसपर रोहिणी ने कहा कि "क्यों नहीं। अभी प्लान नहीं है लेकिन कसम भी नहीं खाई है। अगर मेरे लोगों को ज़रूरत हुई तो ज़रूर आऊंगी। फिलहाल फैमिली में खुश हूं। रोहिणी ने अपने इरादे साफ कर दिए हैं कि अगर परिवार की ज़रूरत होगी तो वो ज़रूर आएंगी। लेकिन कब आएगी ये साफ नहीं किया। इन खबरों का रोहिणी ने खंडन किया है। 

 

Posted By: Kajal Kumari