पटना, जेएनएन। पटना में अपराधी बदला लेने के लिए नई तरकीब निभा रहे हैं। थाना क्षेत्र के अहिजन गांव में शुक्रवार को एक एेसी ही घटना प्रकाश में आई। यहां रहने वाले जसीम को दोस्तों ने पहले घर से बुलाया फिर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उसके शव को राजगीर की पहाड़ी में ले जाकर फेंक दिया। राजगीर के गिरियक में शव मिलने की सूचना पर पहुंचे परिजन ने पहचान की। परिजनों ने इसकी जानकारी शुक्रवार की सुबह थानाध्यक्ष उत्तम कुमार को दी।

थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ राजगीर पहुंचे और शव बरामद कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपित दो दोस्त मो. सद्दाम और अनिल कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। परिजनों ने बताया कि हत्या में लल्लू और इरफान भी शामिल थे।

 जसीम की मां सरजहान ने गुरुवार को ही अपहरण की आशंका जताते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई थी। यदि पुलिस सक्रिय होती तो युवक की जान बच जाती।

पहले लूटे रुपये फिर की हत्या

परिजन रकीब ने बताया कि जसीम अपने कारोबार से 35-40 हजार रुपये कमा कर घर लौटा था। इसकी जानकारी मिलते ही दोस्तों ने अपने जाल में फंसा लिया और पहले रुपये लूट लिए, फिर हत्या कर शव को राजगीर में ठिकाने लगा दिया। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जसीम का गांव की ही एक महिला से अवैध संबंध था। इसी मामले में उसकी हत्या हुई है। पुलिस भी प्रेम-प्रसंग के ही बिंदु पर जांच में जुटी है। परिजनों ने गिरफ्तार युवकों के अलावा लल्लू एवं इरफान की भी संलिप्तता की बात कही।

आक्रोशित परिजनों ने जाम किया एनएच

अंचल पुलिस निरीक्षक कामख्या नारायण सिंह के अनुसार पूरे मामले का उद्भेदन हो गया है। हत्या से आक्रोशित ग्रामीण व परिजनों ने युवक की हत्या में शामिल दोस्तों पर कार्रवाई की मांग को लेकर थाने के सामने एनएच पर कुछ देर के लिए जाम कर दिया। हालांकि पुलिस ने समझाकर जाम खत्म करा दिया। शव के इंतजार में परिजन देर शाम तक थाने के पास जमे रहे।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस