जागरण टीम, पटना।  दो दिनों में प्रदेश में दो बड़ी वारदातें। पेट्रोल छिड़क दो युवतियां जिंदा जला दी गईं। दोनों के शव सुनसान खेत से बरामद किए गए। दोनों के शव को देखने से पता चल रहा है कि दोनों नवविवाहिताएं हैं। एक घटना बक्सर की है, दूसरी वारदात समस्तीपुर की है। दोनों जिलों में भौगोलिक दूरी तकरीबन 214 किलोमीटर है, लेकिन घटना का दृश्य लगभग समान है।

स्थिति और परिस्थितिजन्य दृश्य भी एक है। दोनों की उम्र लगभग 20-22 साल। बक्सर में युवती को घुटने तक जलाया गया, यहां भी उसी तरह घुटने तक जली लाश बरामद हुई है। वहां भी युवती के पैर रंगे हुए थे, यहां भी। जले शरीर को देखने से यही लग रहा कि दोनों की शादी हाल में ही हुई होगी।

दोनों घटनाएं समान, अबतक शिनाख्त नहीं

बक्सर जिले के इटाढ़ी व समस्तीपुर के वारिसनगर में हत्या के बाद जलाई गईं दोनों युवतियों की शिनाख्त अब तक नहीं की जा सकी है। इटाढ़ी कांड का राज्य महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। कांड को सुलझाने के लिए एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा ने 12 तेज-तर्रार पुलिस अधिकारियों की विशेष टीम बनाई है लेकिन इन्हें भी कोई सुराग नहीं मिल सका है।

वहीं समस्तीपुर जिले के वारिसनगर में युवती का अधजला शव बरामद होने की जांच सदर डीएसपी प्रीतिश कुमार के नेतृत्व में बनी टीम कर रही है। पहचान के लिए 72 घंटे तक शव को सदर अस्पताल में सुरक्षित रखा गया है। लाउडस्पीकर से भी सूचना दी जा रही है। पहचान के लिए शव की तस्वीर विभिन्न थाना क्षेत्रों में भेजी गई है।

बक्सर में दो दिन बाद भी खाली हैं पुलिस के हाथ

बक्सर के इटाढ़ी थाना क्षेत्र के कुकुढ़ा गांव में मंगलवार को खेत से हत्या के बाद बरामद युवती के अधजले शव की गुत्थी दो दिन बाद भी नहीं सुलझी है। जांच टीम का नेतृत्व अनुमंडल पुलिस अधिकारी सतीश कुमार कर रहे हैं वहीं शाहाबाद रेंज के डीआइजी राकेश राठी खुद बक्सर में कैंप कर रहे हैं।

पुलिस ने अपनी ओर से हत्या तथा आम्र्स एक्ट का मामला दर्ज किया है। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि दुष्कर्म के  बाद घटना को अंजाम दिया गया है अथवा यह ऑनरकिलिंग का मामला है। पुलिस ने घटना का सुराग देने वालों या युवती की पहचान बताने वाले को 50 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

सदर डीएसपी सतीश कुमार ने बताया कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों को लगाया गया है। उम्मीद है कि एक सप्ताह में जांच रिपोर्ट आ जाएगी। वैसे परिस्थितियां ऑनर किङ्क्षलग की ओर इशारा कर रहीं हैं।

घटना पर संज्ञान लेते हुए राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणी देवी गुरुवार को बक्सर पहुंचीं। उन्होंने पूरे ब्योरे के साथ जिला पुलिस के अधिकारियों की बैठक बुलाई है। शुक्रवार को एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा के साथ बैठक में मामले की समीक्षा की जाएगी।

समस्तीपुर में युवती की इस तरह की गई होगी हत्या

इधर, समस्तीपुर से प्रारंभिक जांच में जो बातें सामने आई हैं, उसके अनुसार अपराधियों ने पहले नवविवाहिता के दोनों हाथों को जोर से पकड़ा और विरोध पर मरोड़ दिया। इससे चूडिय़ां टूट गईं। शोर मचाने पर मुंह में कपड़ा ठूंस दिया गया। युवती ने बचने के लिए संघर्ष किया। इस दौरान फर्श पर गिरने से सिर में चोट लगी। इससे अंदाजा लगाया जा रहा कि घटना किसी मकान में हुई और वहां से लाकर शव खेत में जलाया गया।

सामूहिक दुष्कर्म हुआ है या नहीं, इसकी जांच के लिए सैंपल लिया गया है। मौत सिर में चोट लगने या फिर आग से जलने से हुई, इसकी भी जांच की जा रही है। पुलिस को फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) की रिपोर्ट का इंतजार है।

पुलिस का कहना है कि 15 दिनों में जांच रिपोर्ट मिलेगी। वहीं पुलिस अधीक्षक विकास बर्मन कहते हैं कि पहचान छिपाने के लिए अपराधियों ने महिला को जला दिया। दुष्कर्म हुआ या नहीं यह जानकारी पोस्टमार्टम व एफएसएल रिपोर्ट से ही मिलेगी। ऑनरकिलिंग के बिंदु पर भी जांच की जा रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस