पटना, जेएनएन। बिहार के कई हिस्सो में शुक्रवार से लगातार हो रही भारी बारिश ने एक ओर जहां लोगों की परेशानी को काफी बढ़ा दिया है तो वहीं बारिश ने पटना नगर निगम की पोल खोल कर रख दी है। बारिश अभी रुकने का नाम नहीं ले रही , वहीं ये रविवार को भी जारी रह सकती है। बारिश के कारण पटना की स्थिति बेहद दयनीय हो गई है। इसे लेकर सीएम नीतीश कुमार ने आपदा प्रबंधन विभाग की आपात बैठक बुलायी और कई जिलों के डीएम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हालात की जानकारी ली।

बैठक में सीएम ने सभी जिलों के डीएम को पुख्ता तैयारी करने के साथ ही सोन और गंगा नदी में बढ़ते जलस्तर की वजह से बाढ़ प्रभावित जिलों में रीलीफ कैम्प तैयार रखने के निर्देश दिए।

वहीं, बैठक में मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बताया कि अगले 2- 3 दिनों तक बिहार के कई जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है। उन्होंने पटना में भारी जलजमाव को देखते हुए लोगों को जरूरत पड़ने पर ही घरों से बाहर निकलने की सलाह दी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वे किसी भी आपात स्थिति के लिए भी तैयार रहें।

पटना को भी रेड अलर्ट पर रहने के निर्देश

इस बैठक के दौरान राजधानी पटना को भी रेड अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है। बैठक में बताया गया कि पटना में अभी और जलजमाव की स्थिति हो सकती है। सभी पम्प हाउस को भी लगातार चलाने का निर्देश दिया गया है। शहर के निचले इलाकों में ट्रैक्टर और बसों की व्यवस्था की गई है।

मंत्रियों के घर में भी घुसा बारिश का पानी

बता दें कि राजधानी पट ना में हर साल करोड़ों रुपए खर्च करने के बावजूद नालियों की साफ-सफाई के तमाम दावे झूठे साबित हुए हैं। पटना की सभी सड़कें झील में तब्दील हो चुकी हैं, घरों में पानी घुस गया है। यहां तक कि कई मंत्रियों के घरों में भी जलजमाव के हालात है।

बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा, जेडीयू नेता अजय आलोक के घरों में दो से तीन फुट पानी लगा है। नए नाले का निर्माण होने के बाद भी शहर में गंदे नाले के पानी से नारकीय स्थिति बन गई है। इन सबसे निपटने के लिए ही सीएम अपने अधिकारियों के साथ अहम चर्चा कर रहे हैं।

पटना नगर निगम ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

वहीं स्थिति को देखते हुए पटना नगर निगम ने हेल्पलाइन नंबर-18003456644 जारी किया है। वहीं, जिलाधिकारी ने भी कंट्रोल रूम का नंबर 06122219810 जारी किया है। इस नंबर पर फोन करके अाप अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। 

जलजमाव से लोगों को हो रही काफी परेशानी

पटना के कई इलाकों में घर में पानी घुस जाने के कारण रात भर लोग जागते रहे। कई इलाकों में सड़कों को खोद कर छोड़ दिया गया है, निर्माण कार्य अधूरा पड़ा रहने के कारण भी जलजमाव से रास्ते और खतरनाक हो गए हैं। इन सबके बीच पटना डीएम ने जिले के सभी निजी और सरकारी स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए हैं।

बता दें कि शुक्रवार को ही मौसम विभाग ने अगले 72 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी दी थी और इसके लिए विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया था। इसके बावजूद निगम की तरफ से जलजमाव से निपटने की कोई तैयारी नहीं की। 

 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप