पटना, जेएनएन। बिहार हज कमेटी द्वारा हज यात्रा 2019 की तैयारी जोर-शोर से की जा रही है। बिहार हज कमेटी के चेयरमैन हाजी इलियास हुसैन ने बताया कि इस वर्ष दो जुलाई से बिहार के हज यात्रियों का काफिला गया और कोलकाता एयरपोर्ट से रवाना किया जाएगा। अब तक गया एयरपोर्ट से रवाना होने वाले 4950 और कोलकाता एयरपोर्ट से रवाना होने वाले 1400 हज यात्रियों ने अपनी दूसरी किस्त की रकम जमा कर दी है।


इस वर्ष जीएसटी 18 फीसद से 5 फीसद कर दी गई है, जिसका लाभ हज यात्रियों को भी होगा। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष अचानक रकम की बढ़ोत्तरी से हज यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था। इस बार ऐसा नहीं होगा। सफर-ए-हज पर जाने वालों से तीन किस्तों में ही रकम जमा करवाई जाएगी। दो किस्त जमा हो चुकी है। तीसरी और आखिरी किस्त की रकम 15 दिनों में घोषणा कर दी जाएगी। किस्त की रकम की घोषणा के साथ ही हवाई जहाज का शिड्यूल भी आ जाएगा।

इधर, उलेमाओं द्वारा हर जिले के हज यात्रियों को बारी-बारी से प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मौलाना अतिकुल्लाह कासमी, मौलाना आलम कासमी, मौलाना शिबली कासमी और मुफ्ती ओबैदुल्लाह पटना जिले से जाने वाले हज यात्रियों को हज भवन परिसर में प्रशिक्षण दिया गया। इस दौरान हज यात्रियों को सफर-ए-हज के दौरान रूट, इबादत के तरीके और परेशानियों से बचने के तरीके बताए गए। मौलाना शिबली कासमी ने बताया कि अल्लाह के घर में हज की कबूलियत में कोई कमी नहीं हो, इसके लिए हर जिले से जाने वाले हज यात्रियों को प्रशिक्षण दिया जाता है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस