पटना, राज्य ब्यूरो। बिहार सरकार ने स्मार्ट पुलिसिंग के लिए दृढ़संकल्पित है। इसके लिए जोनल व्यवस्था को समाप्त कर रेंज व्यवस्था में पदों पुनर्गठन कर दिया है। गृह विभाग ने इससे संबंधित आदेश जारी कर आइजी के दो और डीआइजी का एक गैर संवर्गीय पद सृजित किया है। मगध और पूर्णिया क्षेत्र में आइजी स्तर के अधिकारी की तैनाती की जाएगी। बेगूसराय में डीआइजी स्तर के अधिकारी के पदस्थापना का प्रावधान किया गया है। वर्तमान में पटना, तिरहुत (मुजफ्फरपुर), कोसी (दरभंगा) और भागलपुर चार जोन थे। यहां रेंज डीआइजी भी बैठते थे। 

जोनल आइजी और रेंज डीआइजी दोनों के ही द्वारा जिला पुलिस एवं एसपी-एसएसपी को स्थानीय मार्गदर्शन देने के साथ उनके कार्य का निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण किया जाता था। दोनों ही पद एसपी /एसएसपी  के ऊपर प्रशासनिक नियंत्रण एवं सुपरविजन से संबंधित हैं। इससे पुलिस मुख्यालय के आदेश -निर्देशों का दोहराव हो रहा था।

ऐसे में जोनल व्यवस्था को समाप्त कर वर्तमान क्षेत्रों को पुनर्गठित किया गया है। इसके तहत बड़े और महत्वपूर्ण क्षेत्र में आइजी और अन्य में डीआइजी को पदस्थापित किया जाएगा। मगध क्षेत्र गया एवं पूर्णिया रेंज की जिम्मेदारी अब डीआइजी की जगह आइजी को दी गई है।

इसके लिए दो पुलिस महानिरीक्षक के गैर संवर्गीय पद तथा बेगूसराय के लिए डीआइजी का एक गैर संवर्गीय पद सृजित किया गया है। बिहार में अभी तक 11 पुलिस रेंज थे। बेगूसराय-खगडिय़ा को मिलाकर नया रेंज बनाया गया है। इससे रेंज की संख्या बढ़कर 12 हो गई है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप