बख्तियारपुर (पटना), संवाद सूत्र। पटना जिल के बख्तियारपुर के अंचलाधिकारी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। खुद को उनकी गर्लफ्रेंड बताने वाली युवती ने सीओ पर दुष्‍कर्म की प्राथमिकी दर्ज करा दी है। आरोप लगाया है कि करीब आठ वर्षों से वे उसका यौन शोषण कर रहे थे। अब गाड़ी में आग लगाने का आरोप उसपर लगा दिया है। युवती ने आरोप लगाया है कि सीओ के कारण उसका जीना मुश्किल हो गया है। इससे पूर्व सीओ ने युवती के खिलाफ खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने एवं जानलेवा हमला करने का मामला थाने में दर्ज करवाया था।

शनिवार को सीओ की गाड़ी में लगी थी आग 

बता दें कि बख्तियारपुर में शनिवार को अंचलाधिकारी (सीओ) की सरकारी गाड़ी में आग लगाने की घटना सामने आई थी। तब युवती और सीओ के बीच हाथापाई का वीडियो वायरल हुआ था। वीडियो में युवती बार-बार सीओ को अपना पति बता रही थी। तब सीओ ने बताया था कि शार्ट सर्किट से गाड़ी में आग लग गई। इसके बाद रविवार को सीओ ने प्राथमिकी दर्ज कराई। आरोपित युवती को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। मामले में नया मोड़ तब आया जब युवती ने सीओ पर दुष्‍कर्म की प्राथमिकी दर्ज करा दी।  

कमरे में बुलाकर मांग में भर दिया था सिंदूर 

बेतिया की रहने वाली युवती ने प्राथमिकी में आरोप लगाया है कि बेतिया में रघुवीर प्रसाद की सीओ के रूप में पोस्टिंग हुई थी। तब वह उन्‍हें पिता की नजरों से देखती थी। वे भी ऐसा ही व्‍यवहार करते थे। लेकिन एक दिन उन्‍होंने कमरे में बंद कर उसकी मांग में सिंदूर भर दिया। कहा कि वह उससे शादी करेंगे। इसके बाद संबंध बना लिया। युवती ने बताया है कि उन्‍होनें फोटो वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाते रहे हमेशा वे कभी पटना तो कभी कहीं और मिलने के लिए बुलाते रहे। शादी का झांसा देकर संबंध बनाते रहे। अभी तक वे यौन शोषण करते रहे हैं। बाद में उनका तबादला बख्तियारपुर हो गया।

सीओ ने किया जान लेने का प्रयास 

इसी दौरान 15 जनवरी को उन्‍होंने वहां बुलाया। वहां जाने पर इल्‍जाम लगाया कि तुमने मेरी गाड़ी में आग लगाई है। जबकि उन्‍होंने ही गाड़ी में आग लगवाई। उसमें उसे झोंकने का प्रयास किया।  जबकि उसी गाड़ी से उन्‍होंने उसे एक माॅल तक पहुंचाया था। वहां अचानक उसे मारने लगे। तब उसने भी हाथ उठा दिया। कुछ लोगों के साथ मिलकर पटना जाने वाली सड़क पर ले गए। वहां हत्‍या का प्रयास किया। युवती ने आरोप लगाया है कि सीओ ने उसका मोबाइल भी छीन लिया। उसमें काल डिटेल्‍स समेत कई सबूत थे। सीओ के बेटी-दामाद ने भी जान से मारने की धमकी दी। युवती ने आरोप लगाया है कि रघवीर प्रसाद उसके पति हैं। लेकिन उसे छिपा के रखते हैं। फोटो दिखाकर टार्चर करते हैं। जब‍ कभी उनसे कहती कि सबके सामने अपनाओ या रिश्‍ता खत्‍म करो तो गाली और धमकी देते थे। इमोशनल ब्‍लैकमेल करते थे। 

Edited By: Vyas Chandra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट