पटना। राजधानी से सटे मनेर थाना क्षेत्र के सराय में पुलिस ने ग्रामीणों की सूचना पर रविवार की देर रात बिहटा नेउरा थाना क्षेत्र स्थित सराय पंचमुहानी सड़क के पास से डिकेश गिरोह के एक बदमाश को धर दबोचा। गिरोह का सरगना डिकेश और उसके आधा दर्जन साथी पुलिस को देखते ही मौके से फरार हो गए। भागने के दौरान ही गिरोह का एक गुर्गा जयप्रकाश पुलिस के हाथ लग गया। वह बिहटा इलाके के टिकैतपुर का रहने वाला है। डिकेश भी इसी गांव का निवासी है। पुलिस ने मौके से एक इनोवा कार, चार बाइक, एक डीवीएल बंदूक, एक देसी रायफल, एक पिस्टल, 49 कारतूस और एक मोबाइल बरामद किया है। इस बाबत एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि डिकेश अपने गिरोह के साथियों के साथ किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में वहां इकट्ठा हुआ था। इसी बीच पुलिस को इसकी सूचना मिल गई। त्वरित कार्रवाई करते हुए मनेर थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस को आता देख डिकेश और उसके आधा दर्जन गुर्गे फरार हो गए। वहीं स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के अनुसार डिकेश सिंह अपनी इनोवा कार से मनेर के बलुआ से एक तिलक समारोह में शामिल होकर लौट रहा था। तभी बलुआ के सोनाधारी सिंह द्वार के समीप उसी गाव के हीं पिंटू राय और उसके साथियों से साइड लेने को लेकर विवाद हुआ। इसके बाद उनलोगों ने डिकेश की पिटाई कर दी। पीटे जाने के बाद डिकेश ने अपने लोगों को हथियार के साथ बुला लिया। तभी डिकेश के साथ मारपीट करने वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी। जानकारी मिलते ही पुलिस वहां पहुंच गई।

पूछताछ के बाद रिहा किए गए तीन लोग

पुलिस को देख डिकेश और उसके आधा दर्जन साथी अपनी गाड़ी छोड़कर अंधेरे का लाभ उठा कर भाग गए। भागते वक्त उनलोगों ने अपने हथियार खेत में फेंक दिए थे, जिसे पुलिस ने बरामद किया। वहा से पुलिस ने छह बाइक और एक इनोवा कार को रोका। साथ ही चार लोगों को हिरासत में लिया। पूछताछ के बाद तीन लोगों और दो बाइक को छोड़ दिया गया। पुलिस डिकेश और उसके साथियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप