पटना, जेएनएन। 'केंद्र सरकार महिला सशक्तीकरण की दिशा में ठोस पहल कर रही है। चाहे महिलाओं के लिए आरक्षण का मामला हो या फिर तीन तलाक का। केंद्र सरकार महिलाओं के हितों की रक्षा के लिए कटिबद्ध है। महिला सशक्तीकरण की दिशा में केंद्र ने सभी डाक मंडलों में एक-एक महिला डाकघर खोलने का निर्णय लिया है। देशभर के 652 डाक मंडलों एक-एक महिला डाकघर खोले जाएंगे।' यह बातें केंद्रीय विधि एवं न्याय, संचार व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहीं। वे शनिवार को पटना में स्थापित प्रदेश के पहले महिला डाकघर के उद्घाटन बाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। यह बिहार का पहला महिला डाकघर है तथा यहां पोस्‍ट मास्‍टर से लेकर पोस्‍टमैन तक महिलाएं हैं। आगे भी इस डाकघर में सभी स्‍टाफ्स महिलाएं ही होंगी।  

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) परिसर में स्थापित यह महिला डाकघर देश का दूसरा और बिहार का पहला महिला डाकघर है। डाक विभाग इस डाकघर को शोकेस के रूप में विकसित करेगा। देश-विदेश के जो भी मेहमान यहां आएंगे, उन्हें यह डाकघर दिखाया जाएगा। यहां केवल महिला कर्मचारी ही कार्यरत होंगी। यहां सभी उत्पाद मिलेंगे। उन्होंने कहा, पटना में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज शीघ्र ही अपनी शाखा खोलने जा रही है। भवन निर्माण का कार्य चल रहा है। इससे 1500 बेरोजगारों को नौकरी मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि हमने कानून मंत्री के रूप में 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वाले व्यक्ति को फांसी की सजा का प्रावधान कराया है। 

रविशंकर प्रसाद ने कहा, पटना साहिब से सांसद चुने जाने के बाद उन्होंने रेलवे स्टेशनों के विकास में पूरा सहयोग दिया है। हार्डिंग पार्क में बन रहे लोकल ट्रेनों के स्टेशन के लिए उन्होंने डाक विभाग व भारत संचार निगम लिमिटेड की जमीन रेलवे को दिलाई है। इससे पटना जंक्शन सीधे हार्डिंग पार्क से जुड़ जाएगा। पटना जंक्शन समेत दानापुर मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों का अभूतपूर्व विकास हुआ है। 

अतिथियों का स्वागत करते हुए पोस्टमास्टर जनरल अनिल कुमार ने कहा, डाकघर महिला सशक्तीकरण का सबसे बड़ा उदाहरण है। यहां महिलाओं व लड़कियों के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। महिलाओं की ओर से बनाए गए सामान को बाजार मुहैया कराने की कोशिश की जा रही है। प्रधान पोस्टमास्टर जनरल एमई हक ने कहा, बिहार के 786 डाकघर सीबीएस से जुड़ गए हैं और 43 एटीएम खुल चुके हैं। 1600 डाकिया को एंड्रायड फोन दिए गए हैं। आइपीपीबी में साढ़े 13 लाख खाते खोले गए हैं। डाकघर से ड्राइविंग लाइसेंस व आरसी दी जा रही है। इस मौके पर विधायक संजीव चौरसिया व अरुण सिन्हा ने पटना जंक्शन, राजेंद्र नगर टर्मिनल, पाटलिपुत्र व दानापुर स्टेशन पर हुए विकास कार्यों की चर्चा करते हुए रविशंकर प्रसाद की पहल की तारीफ की। बिहार लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष शिशिर कुमार सिन्हा ने डाक विभाग की इस पहल पर आभार व्यक्त किया। 

खास बातें 

  • देश के हर डाक मंडल में होगा एक महिला डाकघर : रविशंकर प्रसाद
  • सूबे के पहले और देश के दूसरे महिला डाकघर का केंद्रीय मंत्री ने किया उद्घाटन
  • लंबित मामलों के त्वरित निपटारे के लिए देशभर में बनेंगे 1023 फास्ट ट्रैक कोर्ट
  • बीपीएससी डाकघर होगा विभाग का शोकेस
  • देश-विदेश से आने वाले सेलिब्रिटी पहुंचेंगे देखने
  • महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर करेंगे पदयात्रा और सड़कों की सफाई
  • पटना में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज खोलेगी अपनी शाखा
  • 1500 कर्मचारियों की होगी बहाली

 

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप