बेगूसराय, जागरण संवाददाता। Bihar Crime बेगूसराय के मुफस्सिल थाना क्षेत्र स्थित हरदिया गांव में गुरुवार को वार्ड 14 निवासी मो. मंसूर के 28 वर्षीय पुत्र मो. इम्तियाज की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इम्तियाज का कसूर यह था कि उसने अपने गांव में ही दबंग की बेटी से प्यार किया और तीन साल पहले दिल्ली भाग कर शादी रचा ली। स्वजनों के लाख विरोध के बाद भी प्रेमिका सादिया परवीन ने इम्तियाज के साथ रहना स्वीकार किया, लेकिन उसे प्यार करने की सजा के तौर पर मौत मिली। आरोप ससुर मो. औरंगजेब पर लगा है। पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है। पुलिस दो संदिग्‍धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

निशाना बना की गोलियों की बौछार

मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार की दोपहर बाद इम्तियाज एसएच-55 किनारे स्थित अपने घर से निकल कर सड़क के उस पार मोटरसाइकिल गैरेज में कुछ लोगों के साथ बैठा था। इसी क्रम में एक बाइक पर सवार बदमाशों ने उसे निशाना बना कर गोलियों की बौछार शुरू कर दी। दो गोलियां उसके सीने व पेट में लगीं। गोलीबारी में हरदिया निवासी गैरेज संचालक मो. बारीक के पुत्र मो. रहमतुल्ला की बांह में भी गोली लगी है, जिसका इलाज स्‍थानीय कल्पना नर्सिंग होम में चल रहा है। जानकारी मिलते ही मुफस्सिल पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर सदर अस्पताल भेजा। सदर अस्पताल पहुंचे स्वजनों में पुलिस के प्रति आक्रोश देखा गया।

दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ 

घटना को लेकर इलाके में आक्रोश व्‍याप्‍त है। इस संबंध में मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजबिंदु प्रसाद ने बताया कि घटना गुरुवार की दोपहर एसएच-55 स्थित मोटरसाइकिल गैरेज में हुई। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। हत्या मामले में दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पूछताछ में पुलिस को कुछ महत्‍वपूर्ण सुराग मिले हैं। जल्‍दी ही अपराधी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप