पटना, ऑनलाइन डेस्‍क। लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के आंतरिक कलह में अब बॉलीवुड फिल्‍म 'बाहुबली' (Bahubali) के दो अहम किरदारों कटप्‍पा (Katappa) व बाहुबली (Bahubali) की एंट्री हो गई है। हम बात कर रहे हैं पार्टी के चिराग पासवान (Chirag Paswan) गुट द्वारा जारी एक पोस्‍टर की, जिसमें चिराग को बाहुबली तो उनके चाचा पशुपति कुमार पारस (Pashupati Kumar Paras) को कटप्‍पा दर्शाया गया है। फिल्‍म की तरह यहां कटप्‍पा बने चाचा पशुपति पारस बाहुबली बने भतीजे चिराग पासवान पर धोखे से वार करते हैं। पटना की सड़कों पर लगाए गए इन पोस्‍टरों की लोग खूब मजे ले रहे हैं।

पटना में लगे पोस्‍टर पर लिखा: गद्दार चाचा से सावधान

एलजेपी के पशुपति पारस गुट ने गुरुवार को पटना में पशुपति पारस को पार्टी का अध्‍यक्ष निर्वाचित घोषित कर दिया। करीब-करीब इसी दौरान पटना की सड़कों पर चिराग के समर्थन में कटप्‍पा-बाहुबली पोस्‍टर लगा दिए गए। एलजेपी में राम विलास पासवान की विरासत को लेकर चाचा और भतीजे के बीच चल रहे सियासी जंग को दर्शाते ये पोस्टर फिल्‍म 'बाहुबली' के किरदारों के माध्‍यम से अपना संदेश दे रहे हैं। पोस्टर में फिल्‍म का वह सीन दिखाया गया है, जिसमें हीरो बाहुबली की पीठ में उसका मुंहबोला चाचा कटप्पा धोखे से खंजर घोंप देता है। पोस्‍टर पर लिखा है- गद्दार चाचा से सावधान!

यह भी पढ़ें: मुसीबत में CM नीतीश कुमार के विरोधी चिराग पासवान और चुप है लालू परिवार, जानें इनसाइड स्‍टोरी

कटप्‍पा की तरह पारस ने भी पीठ पर किया प्रहार

चिराग पासवान के समर्थन में यह पोस्‍टर एलजेपी के चिराग गुट के मीडिया प्रभारी कृष्ण कुमार कल्लू ने लगाया है। कल्लू कहते हैं कि कटप्‍पा की तरह ही पशुपति कुमार पारस ने बाहुबली चिराग पासवान की पीठ पर प्रहार किया है। वे पशुपति पारस को गद्दार बताते हुए कटप्पा करार देते हैं। साथ ही कहते हैं कि चिराग पासवान बिहार के दुश्मनों से बाहुबली की तरह लड़ रहे थे, लेकिन गद्दारों ने पीठ पर वार कर दिया। पर, बाहुबली चिराग को पता है कि दुश्मनों से कैसे निपटा जाता है।

एलजेपी में वर्चस्‍व की लड़ाई के बीच पोस्‍टर वार

दरअसल, एलजेपी में वर्चस्‍व की लड़ाई के बीच पार्टी में पोस्‍टर वार आरंभ हो गया है। एलजेपी का पशुपति पारस गुट अपने पोस्‍टरों से चिराग पासवान काे आउट करके चल रहा है। साथ ही उसने पटना के पार्टी कार्यालय पर कब्‍जा कर चिराग के पोस्‍टरों को हटा दिया है। चिराग के समर्थन में कटप्‍पा-बाहुबली पोस्‍टर पारस गुट के पोस्टरों का जवाब माना जा रहा है।

क्‍या है पूरा मामला, जानिए...

विदित हो कि तीन दिन पहले चाचा पशुपति पारस ने भतीजे चिराग पासवान को एलजेपी संसदीय बोर्ड के अध्‍यक्ष तथा पार्टी अध्‍यक्ष के पदों से हटा दिया। अब दोनों पदों पर वे खुद काबिज हो गए हैं। उन्‍होंने चिराग पासवान को पार्टी में किनारे लगा दिया है। दूसरी ओर चिराग पासवान ने चाचा पारस के कदम को पार्टी संविधान के खिलाफ बताते हुए उन्‍हें व उनके चार अन्‍य बागी सांसदों को पार्टी से निकाल दिया है। चिराग पासवान अब पार्टी में अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि एक-दो दिनों के अंदर चिराग पासवान भी पटना आने वाले हैं। तब यह लड़ाई नए सिरे से गहराएगी, यह तय है।

Edited By: Amit Alok