पटना, जेएनएन। जिले के अंतर्गत पाटलिपुत्र और पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र में लोकतंत्र का महापर्व यानी मतदान 19 मई को है। आपका नाम किस मतदान केंद्र पर है, पहले आप इसकी जानकारी ले लें। उसके बाद अपना बहुमूल्य मत डालने के लिए मतदान केंद्र पर जाएं। हो सकता है मतदाताओं की संख्या का सामंजस्य बैठाने में आपका नाम दूसरे मतदान केंद्र पर स्थानांतरित हो गया हो। इसे जानने का सबसे सरल तरीका है कि आप 1950 पर डायल कर जानकारी ले लें। आपको अपने मतदाता फोटो पहचान पत्र (वोटर कार्ड) में दर्ज ईपिक नंबर बताना होगा। यहां से आपको मतदान केंद्र संख्या और मतदाता सूची में क्रम संख्या की जानकारी मिल जाएगी।

केंद्र पर जाकर लें बीएलओ का नंबर

सभी मतदान केंद्रों पर बीएलओ का मोबाइल नंबर दीवार पर लिखा है। आप अपने मतदान केंद्र पर जाकर बीएलओ का नंबर देख सकते हैं। मतदान के पहले बीएलओ से पर्ची ले लें। पर्ची पर विस्तृत जानकारी रहेगी। इससे आपको मतदान केंद्र पर परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। मतदाता सूची में नाम रहने पर आप लोकतंत्र के महापर्व में भाग ले सकते हैं। पटना साहिब और पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में 19 मई को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होना है।

ऑनलाइन भी चेक कर सकते हैं अपना नाम

आप घर बैठे इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन भी मतदाता सूची में अपना नाम चेक कर सकते हैं। इसके लिए \क्र222.ठ्ठ1ह्यश्च.द्बठ्ठ पर लॉग-इन करें। उसके बाद आप सर्च योर नेम इन इलेक्शन रौल को क्लिक करें। यहां आपको कई ऑप्शन मिलेंगे। आप अपना नाम, पिता का नाम, उम्र जैसे ब्योरे डालकर सर्च कर सकते हैं। सबसे आसान है अपना ईपिक नंबर डालें। उसके बाद सर्च इन डिटेल पर क्लिक करें। कुछ अंक और अक्षर (कैप्चा कोड) मिलेंगे। उसे निर्धारित बॉक्स में डालें। इसमें अंग्रेजी के अक्षर डालते हुए कैपिटल और स्मॉल लेटर का ध्यान रखें। यानी बड़ी 'ईÓ की जगह छोटी 'ईÓ  न डालें। इसे पूरा कर सबमिट करते ही जानकारी मिल जाएगी।

विस्तार से जानकारी चाहते हैं तो व्यू डिटेल क्लिक करें। विधानसभा, संसदीय क्षेत्र का नाम, मतदाता का नाम, लिंग, पिता या पति का नाम, मतदान केंद्र का नाम, संख्या और भाग भी दिखेगा। सबसे बड़ी बात है कि मतदान की तिथि भी दिख रही है। जानकारी को प्रिंट करने का भी कॉलम दिया गया है। इसपर क्लिक करते ही आपके प्रिंटर से हार्डकॉपी निकल जाएगी। इसमें ऑनलाइन मतदाता पंजीकरण की भी सुविधा दी गई है।

एप से मिल रही जानकारी

अपने स्मार्टफोन के प्ले स्टोर में जाएं। इलेक्शन लिखकर सर्च करने पर कई प्रकार के एप दिखेंगे। अलग-अलग एप से आपको चुनाव से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियां मिल जाएंगी। इसमें चुनाव आयोग के आधिकारिक एप के नाम के नीचे आपको इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया लिखा दिखाई देगा। इसमें 'वोटर हेल्पलाइन' नाम का एप खास उपयोगी है। आयोग के ही 'सी विजिल' नाम के एप का इस्तेमाल निर्वाचन संबंधी शिकायतों के लिए कर सकते हैं। कई निजी संस्थानों के भी चुनाव संबंधी उपयोगी एप हैं। आचार संहिता उल्लंघन की सूचना देने से लेकर मतदान से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी 1950 डायल कर भी ले सकते हैं।

घर तक पर्ची पहुंचाएंगे बीएलओ

जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि बीएलओ घर-घर तक पर्ची पहुंचाएंगे। मतदाता भी सजग हो जाएं और मतदान करने के पहले अपने मतदान केंद्रों की जानकारी ले लें। जानकारी के कई स्रोत उपलब्ध कराए गए हैं। ज्यादा से ज्यादा मतदाता मतदान कर लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत बनाएं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Akshay Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप