पटना [राजेश ठाकुर]। Durga Puja 2019: बिहार में दुर्गापूजा की धूम है। मां के कालरात्रि स्‍वरूप की पूजा के साथ ही आज मां दुर्गा के पट खुल गए। पटना समेत तमाम जिलाें में भक्‍तों की भीड़ उमड़ पड़ी है। मां के दर्शन करने के साथ सेल्फी लेने की भी लोगों में होड़ मची है। सड़कों पर भक्‍तों का रेला लग गया है। प्‍यारा सजा है दरबार भवानी गीत से शहर गूंज रहा है। इसके साथ ही पटना के डाकबंगला चौराहे पर विराजित मां दुर्गा की प्रतिमा का बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने दर्शन किया। इसके साथ ही उन्‍होंने राज्‍य के लोगों को दुर्गापूजा व दशहरे की शुभकामना दी। इसके साथ ही राज्‍यपाल फागू चौहान, डिप्‍टी सीएम सुशील मोदी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव, पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी समेत अन्‍य मंत्रियाें ने शुभकामनाएं दी हैं। 

मेले के रंग में डूबा पटना 

सप्तमी तिथि को मां दुर्गा की पूजा अर्चना होने के बाद शहर के प्रमुख पूजा पंडालों में विराजमान मां दुर्गा की प्रतिमा का पट खुलते हीं पूरा शहर मेले के रंग में रंगा दिखा। शाम छह बजे कुछ ऐसा हीं नजारा कदमकुआं, मछुआ टोली, गोविंद मित्रा रोड में देखने को मिला। पिता के अंगुली पकड़े बच्चे, भीड़ के साथ कदमदाल करते हुए आगे बढ़ रहे थे। आर्य कुमार रोड मछुआ टोली एबीसी पूजा समिति की ओर से मां के 18 हाथ और 25 सिर वाले प्रतिमा को देखने के लिए भीड़ लगी थी। बाइक पर कार पर सवार अपने परिवारों के साथ मां की भव्य प्रतिमा के सामने गाड़ी को धीरे कर, प्रणाम करते हुए आगे बढ़ते गए। 

सीएम नीतीश कुमार ने की पूजा अर्चना 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को राजधानी के कई दुर्गा पंडाल में पूजा अर्चना की और सूबे की शांति एवं समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री शेखपुरा दुर्गा पूजा समिति के खाजपुरा स्थित पंडाल औैर डाकबंगला चौक स्थित पूजा पंडाल गए और मां दुर्गा की प्रतिमा का दर्शन किया। समस्त बिहार के लोगों को दुर्गापूजा की शुभकामनाएं दीं। इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, विधान पार्षद रणवीर नंदन, दीघा के विधायक संजीव चौरसिया, बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार के सदस्य उदयकांत मिश्रा, नवयुवक संघ दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष संजीव प्रसाद टोनी, बिहार राज्य नागरिक परिषद के पूर्व महासचिव छोटू सिंह व कई अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।

मुजफ्फरपुर का कुछ ऐसा ही नजारा 

आखिर इंतजार की वो घड़ी खत्म हुई, जिसका श्रद्धालु भक्तों को कई दिनों से इंतजार था। नवरात्र के सातवें दिन शनिवार को पूजा पंडालों में मां के पट खुलते ही मां के जयकारे से वातावरण गूंज उठा। इसके पूर्व निमंत्रण दिए बिल्व वृक्ष के पास जाकर फल तोड़कर लाया गया। फिर विधिवत पूजा-अर्चना के बाद पत्रिका-प्रवेश हुआ। उसके बाद मां का पट खुला। इस दौरान भक्तों की उमंग देखते बनती थी। शाम ढलते ही लोग मां के दर्शन के लिए शहर में निकल पड़े। शहर के यादव नगर, अघोरिया बाजार, अघोरिया बाजार, मालीघट, माड़ीपुर आदि जगहों पर आकर्षक पूजा पंडाल बने है। जगह जगह बनी माता की भव्य मूर्तियों के दर्शन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी है।

भागलपुर में ढाक की थाप के बीच मां के पट खुले 

भागलपुर के चंपानगर महाशय ड्योढ़ी स्थित प्राचीन दुर्गा मंदिर में सप्तमी को ढाक की थाप के बीच विधि-विधान पूर्वक मेढ़ पर मेढ़ चढऩे के साथ ही देवी दुर्गा महारानी के दर्शनार्थ व पूजा-अर्चना के लिए मंदिर पट खोल दिए गए। लगभग 400 सालों से पूजित यहां की दुर्गा महारानी अत्यंत जाग्रत मानी जाती हैं। मंदिर का पट खुलने के साथ ही शनिवार को बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने देवी दुर्गा की पूजा-अर्चना की तथा पुष्पांजलि दी। यहां मां भगवती की विशाल प्रतिमा के ऊपर भगवान शिव की प्रतिमा बिठाकर उनकी पूजा करने की परंपरा चली आ रही है। इसे मेढ़ पर मेढ़ चढ़ाये जाने के रूप में जाना जाता है। पंडित मणि मोहन बनर्जी उर्फ मंटू बाबा ने वैदिक मंत्रों का उच्चार कर विधि पूर्वक इस अनुष्ठान को पूरा कराया। माता की पूजा शुरू होने पर सबसे पहले उनकी व नव पत्रिका की पूजा की गई। उसके बाद वैदिक  मंत्रों के साथ प्रतिमा को आभूषण धारण कराया गया तथा उनकी प्राण प्रतिष्ठा की गई। उसके बाद उनकी विधि पूर्वक पूजा की गई।

पूर्णिया में भी सड़कों पर उमड़ा भक्‍तों का सैलाब

पूर्णिया में भी मां दुर्गा की प्रतिमाओं को देखने के लिए भक्‍तों का सैलाब सड़कों पर निकल पड़ा है। भक्‍तों गीतों से शहर गूंज रहा है। लायंस क्लब नवरत्न हाता मंदिर में स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमा देखते ही बन रही है। इसी तरह, रजनी चौक पर लगी शिवजी की इलेक्ट्रोनिक प्रतिमा और सीना चीर कर दिखाते हनुमानजी की इलेक्ट्रोनिक प्रतिमा लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं। वहीं ततमा टोली मेला परिसर में लगे झुले का लोग आनंद ले रहे हैं। कोर्ट पूर्णिया स्थित तैयार पूजा पंडाल भी देखते ही बन रहा है। 

गया में भी उमड़ रही लोगों की भीड़ 

दुर्गा पूजा को लेकर पूरा माहौल भक्तिमय है। शहर के दुर्गाबाड़ी में नवरात्र की षष्टी को पारंपरिक तरीके से पूजा के बाद पट खुल गया। वहीं शनिवार को माता के दर्शन-पूजन को लेकर बंगाली समाज के लोगों के साथ-साथ अन्य श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ने लगी है। समिति के बैनर तले दुर्गाबाड़ी में पूजनोत्सव की तैयारी इस बार काफी बेहतरीन है। मां देवी की साज-सज्जा के सामान बंगाल से मंगाए गए हैं। पूरे परिसर को फूल-माला व रंग-बिरंगी रोशनी से सजाया गया है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस