नवादा, जेएनएन। बड़े मियां तो बड़े मियां छोटे मियां सुभानअल्‍लाह। यह कहावत बिहार में खाकी वर्दी पर पूरी तरह लागू हो रहा है। पिछले दिनों शराब के मामले में कई थानेदारों पर गाज गिरी, लकिन इससे कोई सबक नहीं ले रहा है। शराबबंदी कानून की धज्जियां खाकी वाले ही उड़ा रहे हैं। रविवार को अब थाने के मुंशी जी शराबी बन गए और थाने में कानून की धज्जियां उड़ाने लगे। मामला नवादा के पकरीबरावां थाने का है। पुलिस ने मुंशी को नशे की हालत में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 

दरअसल, बिहार में आम आदमी के साथ ही पुलिसवाले भी शराबबंदी कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं। इसका ताजातरीन उदाहरण पकरीबरावां थाने में देखने को मिला। शनिवार की रात नशे की हालत में हंगामा करते हुए थाने के मुंशी समेत दो लोग गिरफ्तार किए गए। रविवार को दोनों जेल भेज दिए गए। 

पुलिस के अनुसार, नशे की हालत थाने का मुंशी रामप्रवेश सिंह और पकरीबरावां बाजार निवासी रत्नाकर पांडेय गिरफ्तार किए गए हैं। शराब पीकर दोनों थाना परिसर में हंगामा कर रहे थे। थानाध्यक्ष सरफराज इमाम ने हाजत में थाने के मुंशी और रत्नाकर को बंद कर दिया। दोनों की जांच कराई गई। उनके नशे में होने की पुष्टि हुई। उसके बाद उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज हुई। पकरीबरावां एसडीपीओ मुकेश कुमार साह ने बताया कि मुंशी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। 

गौरतलब है कि पिछले माह बिहार के दरभंगा समेत अन्‍य जिलों में शराब के मामले में दो थानेदारों पर कार्रवाई हुई थी। दोनों मामलों ने पुलिस विभाग की भारी फजीहत कर दी। इसके बाद भी कानून के रक्षक ही शराबबंदी कानून को ठेंगा दिखा रहे हैं। 

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप