पटना, राज्य ब्यूरो। पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट को गति देने के लिए इसके अध्यक्ष और निदेशकों की नियुक्ति महीने भर में होगी। जदयू सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने मेट्रो कॉरपोरेशन के अध्यक्ष और निदेशकों की नियुक्ति का मामला संसद में उठाया था। इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने उन्हें आश्वस्त करते हुए महीने भर में नियुक्ति की बात कही है। 

मुंगेर के जदयू सांसद ललन सिंह ने लोकसभा सत्र के प्रश्नोत्तर काल में यह सवाल उठाया कि पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के अध्यक्ष और निदेशकों की नियुक्ति में अब विलंब हो रहा है। वे जानना चाहते हैं कि अध्‍यक्ष और निदेशकों की नियुक्ति में हो रहे विलंब की वजह क्या है। जवाब में केंद्रीय मंत्री पुरी ने महीने भर में नियुक्ति की समय सीमा तय कर दी। सांसद ललन सिंह के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने संसद को बताया कि पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के लिए प्रारंभिक कार्य शुरू भी किया जा चुका है। कार्य ने गति भी पकड़ ली है। इसके लिए राशि भी मुहैया करा दी गई है। वहां चल रहे कार्यों की मॉनिटरिंग भी लगातार हो रही है। 

जदयू सांसद ने पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के लिए जाइका (जापान इंवेस्टमेंट कॉरपोरेशन) से मिलने वाले ऋण में वाणिज्य मंत्रालय की तरफ से की जा रही देरी का मामला भी उठाया। मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि वह पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की मॉनीटरिंग खुद कर रहे हैं और प्रोजेक्ट में किसी तरह की कोई देरी नहीं होगी।

सांसद ललन सिंह के बाद मेट्रो रेल प्रोजेक्ट को लेकर संसद के प्रश्नोत्तर काल में ही दूसरा सवाल जदयू के नालंदा सांसद कौशलेंद्र कुमार ने पूछा। कौशलेंद्र कुमार ने पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का विस्तार नालंदा तक किए जाने की मांग उठाई। जवाब में मंत्री हरदीप पुरी ने फिलहाल ऐसे किसी भी मेट्रो प्रोजेक्ट पर अमल से इनकार कर दिया। 

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस