पटना, आनलाइन डेस्‍क। राजस्‍थान में मशहूर फिल्‍म एक्‍ट्रेस कटरीना कैफ और विकी कौशल (Katrina Kaif and Vicky Kaushal Wedding) की शाही शादी हो रही है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि कटरीना कैफ शादी से पहले बिहार के अरवल जिले की करपी एपीएचसी में कोरोना की आरटीपीसीआर जांच कराने आई थीं। चौंक गए न? ये हम नहीं कह रहे। इसकी पुष्टि एपीएचसी के वे कागजात कर रहे हैं, जिसमें कटरीना कैफ समेत कई मशहूर हस्तियों के नाम कोरोना वैक्‍सीन लेने व जांच कराने वालों में शामिल हैं। दरअसल यह सब उस फर्जीवाड़े की बानगी है जो बिहार में कोरोना जांच के नाम पर की गई है। हालांकि, इस मामले में कार्रवाई शुरू कर दी गई है, लेकिन इसकी चर्चा खूब हो रही है।

दो-दो मिस वर्ल्‍ड का नाम जांच कराने वालों की सूची में 

अरवल जिले के करपी प्रखंड की एपीएचसी में 27 अक्‍टूबर की तिथि में आरटीपीसीआर जांच के नाम पर किए गए फर्जीवाड़े की परत खुलती जा रही है। इसके साथ ही चौंकानेवाली बातें सामने आ रही हैं। कोरोना जांच कराने वालों की सूची में न केवल देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस की अध्‍यक्ष सोनिया गांधी का नाम है बल्कि मिस वर्ल्‍ड ऐश्‍वर्या राय (Miss World Aishwarya Rai), प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) समेत कटरीना कैफ भी उस सूची में शामिल हैं। मामला सामने आने के बाद दो डाटा इंट्री आपरेटर हटाए जा चुके हैं। अरवल की डीएम जे प्रियदर्शिनी स्‍वयं इस मामले को लेकर गंभीर हैं। उन्‍होंने कहा कि पूरा मामला संगीन है। इसकी जांच की जा रही है। इसके बाद एफआइआर भी की जाएगी।  

प्राइवेट एजेंसी के दोनों कर्मी हटाए गए

जानकारी के अनुसार डाटा आपरेटर जिन्‍हें हटाया गया है वे उर्मिला इंटरनेशनल सर्विस प्राइवेट लिमिटेड की ओर से लगाए गए थे। अब मामला सामने आने के बाद जांच और टीकाकरण के काम पर भी सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। डीएम ने कहा कि सिर्फ करपी ही नहीं पूरे जिले में जांच कराई जाएगी। आरटीपीसीआर जांच में जो गड़बड़ी हुई है, उसकी जांच कराई जा रही है। डाटा ऑपरेटर की गलती के कारण इस प्रकार की त्रुटियां हुई है। फिलहाल डाटा ऑपरेटर को कार्य से हटा दिया गया है।

पुरान पंचायत बताया गया है सभी का पता 

बड़ी बात यह है कि जिन हस्तियों और राजनेताओं का नाम और नंबर जोड़ा गया है, उनका पता और ठिकाना करपी प्रखंड की पुरान पंचायत है। दिए गए पता की पड़ताल की गई तो नरेंद्र मोदी और अमित शाह के नाम का कोई भी व्यक्ति नहीं मिला। जिस गांव का नाम प्रियंका चोपड़ा के पते पर दर्शाया गया है, उस गांव में जाकर पड़ताल की गई तो प्रियंका नाम की कई लड़कियां तो मिली लेकिन उसके टाइटल में चोपड़ा नहीं जुड़ा हुआ था।

Edited By: Vyas Chandra