पटना। तंबाकू हमारी सेहत के लिए काफी खतरनाक और नुकसानदेह है। इसका बुरा प्रभाव हमारे शरीर के विभिन्न अंगों पर पड़ता है। तंबाकू का सेवन करने से सिर्फ मुंह का कैंसर हीं नहीं बल्कि गले, आंत, लीवर और गर्भाशय आदि का भी कैंसर हो सकता है। अगर इसके प्रति सही समय पर जागरूक न हों तो तंबाकू की लत आपकी जीवनलीला को भी समाप्त कर सकती है। तंबाकू निषेध दिवस की पूर्व संध्या पर शनिवार को दैनिक जागरण ब्रांड बिहार के फेसबुक पेज द्धह्लह्लश्चह्य://www.द्घड्डष्द्गढ्डश्रश्रद्म.ष्श्रद्व/द्भड्डद्दह्मड्डठ्ठढ्डह्मड्डठ्ठस्त्रढ्डद्बद्धड्डह्म पर विशेष आयोजन किया गया।

ऑनलाइन आयोजन के दौरान शहर के वरिष्ठ फिजीशियन और मेडिकल कौंसिल ऑफ इंडिया के पूर्व सदस्य डॉ. राजीव रंजन, महावीर कैंसर संस्थान की सहायक निदेशक और एचओडी (कीमोथेरेपी) डॉ. मनीषा सिंह एवं सीड के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर दीपक मिश्र पाठकों से रूबरू थे। उनसे दैनिक जागरण ब्रांड विभाग के डीजीएम मनोज कुमार ने बातचीत की। बातचीत के दौरान डॉ. राजीव रंजन ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि डब्लूएचओ ने इस वर्ष की थीम युवाओं पर रखी है। युवा किसी वहम का नहीं, बल्कि साजिश का शिकार होते हैं। इसमें प्रचार-प्रसार का बहुत बड़ा महत्व है। तंबाकू शरीर के अंगों को नुकसान पहुंचाता है। कोरोना काल में तंबाकू सेवन करने से संक्रमण का खतरा और बढ़ता है। इसके सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। डॉ. मनीषा सिंह ने कहा कि जानकारी रहने के बाद भी लोग इस दलदल में फंसे चले जा रहे हैं। 84 फीसद लोगों में कैंसर का कारण धूम्रपान है। माता-पिता को अपने बच्चों पर नजर रखने के साथ उनके मनोभाव को समझने की जरूरत है। तंबाकू का प्रभाव श्वसन तंत्र, प्रजनन तंत्र और पाचन तंत्र पर भी पड़ता है, जो बाद मे कैंसर का रूप धारण कर लेता है। सीड के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर दीपक मिश्र ने बिहार के आंकड़े पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 88 प्रतिशत लोग मुंह के कैंसर से प्रभावित हैं। इसमें खैनी, पान मसाला और सिगरेट की अहम भूमिका है। प्रतिदिन पूरे देश में पांच हजार नये बच्चे इसकी शुरुआत करते हैं। यह कई बीमारियों की जड़ है। इन दिनों ई-सिगरेट का प्रचलन तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना काल में भी सरकार इन चीजों की दुकानों पर बैन लगाया है। इसका सरकार और सख्ती से पालन कराये।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस