छपरा, जागरण संवाददाता। Chhapra Crime: किशोरी के साथ छेड़खानी करते हुए अश्लील वीडियो दिखाने के मामले में मकेर थाना क्षेत्र के जगदीशपुर निवासी राहुल कुमार महतो को दोषी करार दिया गया है। विशेष न्यायाधीश पाक्सो सह एडीजे छह नूर सुल्ताना ने 342, 354 बी तथा 8 पाक्सो एक्ट में दोषी बताया है।  सजा के बिंदु पर निर्णय के लिए 31 जुलाई की तिथि मुकर्रर की गई है। अभियोजन की ओर से लोक अभियोजक सह विशेष लोक अभियोजक पाक्सो सुरेंद्रनाथ सिंह व उनके सहायक अश्विनी कुमार ने न्यायालय में पक्ष रखा।

अभियोजन की ओर से कुल पांच लोगों की गवाही न्यायालय में दिलाई गई। इसमें डाक्टर, अनुसंधानकर्ता व पीडि़ता शामिल थी। न्यायालय ने 28 अक्टूबर 2020 को दोषी के खिलाफ आरोप गठन किया था। विदित हो कि भेल्दी थाना कांड संख्या 351/ 19 के पाक्सो व सत्र वाद संख्या 122 /19 के विचारण के पश्चात कोर्ट ने आरोपित को दोषी करार दिया है। पीडि़ता की मां ने 28 नवंबर 2019 को प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इस मामले में दो साल के अंदर फैसला आने वाला है।

महिला ने अपने दो देवरों के खिलाफ मारपीट का कराया केस

जनता बाजार थाना क्षेत्र के दयालपुर फाटक निवासी विश्वजीत राम की पत्नी पुष्पा देवी ने अपने दो देवर प्रमोद कुमार राम तथा प्रकाश कुमार राम के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। महिला का आरोप है कि उक्त दोनों ने उसके साथ मारपीट की। जख्मी हालत में उससे अस्सी हजार रुपये के आभूषण छीन लिये। महिला का आरोप है कि इस संबंध में हाल-चाल जानने आये उसके चाचा, चाची तथा भाई के साथ भी दोनों देवरों व कुछ अज्ञात ने मारपीट की। इस घटना में महिला की चाची घायल हो गईं और उन्हें इलाज के लिये सदर अस्पताल, छपरा भेजना पड़ा। महिला ने अपनी हत्या की आशंका भी व्यक्त की है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।