पटना [जेएनएन]। जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu Kashmir) को केंद्र शासित प्रदेश बनाते हुए वहां से संविधान के अनुच्‍छेद 370 (Article 370) हटाने के केंद्र सरकार के बड़े फैसले का बिहार में स्‍वागत किया गया है। लगातार दूसरे दिन लोग सड़कों पर जश्‍न मनाते दिख रहे हैं।
बिहार में जश्‍न, एक साथ मनी होली-दीवाली
जम्‍मू-कश्‍मीर पर केंद्र के बड़े फैसले को लेकर पटना में कई जगह जश्‍न का का माहौल है। फैसले के समर्थन में पटना के कारगिल चौक पर लोगों का जश्‍न देखते बन रहा था। वे हाथों में फैसले के समर्थन में लिखी तख्तियां लिए हुए थे। कारगिल चौक पर होली खेलती युवाओं की टोली इस बड़े फैसने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृह मंत्री अमित शाह जिंदाबाद के नारे लगा रही थी। इस दौरान पूरे राज्‍य में जश्‍न के बीच होली के साथ दीवाली का नजारा दिखा। 

जम्मू-कश्मीर से अनुच्‍छेद 370 समाप्त करने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों खुशी की लहर है। जगह-जगह मिठाइयां बांटी जा रही हैं। पश्चिम चंपारण में युवक सड़कों पर उतर आए और भारत माता की जय के उद्घोष के साथ-साथ मिठाइयां बांटीं। अनुच्‍छेद 370 हटाने के फैसले का सिल्क सिटी भागलुपर में भी जगह-जगह स्वागत करते हुए जश्न मनाया गया।
सरकार के फैसले के साथ दिखे लोग
बिहार में इस मुद्दे पर कुल मिलाकर सकारात्‍मक प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। पटना के नोट्रेडेम एकेडमी की छात्रा समीक्षा राज तथा लाेयला हाइस्‍कूल की रिद्धि कुमारी ने कहा कि यह केंद्र सरकार का बड़ा फैसला है। इससे जम्‍मू-कश्‍मीर देश के अन्‍य भागों की तरह ही हो जाएगा। पटना विश्‍वविद्यालय के छात्र राजीव राज तथा एएन कॉलेज के संजय कुमार ने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर पर केंद्र सरकार कर यह फैसला देशहित में है। भागलपुर के अमित कुमार, विशाल, सरोज कुमार वर्मा, अनिश कुमार झा, अमरदीप शुक्ला 'नटवर' आदि ने कहा कि यह ऐतिहासिक दिन है। भागलपुर चैंबर ऑप कॉमर्स के अध्यक्ष अशोक भिवानीवाला, व्यवसायी सुमित जैन, व्यवसायी आशीष जैन आदि ने इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि यह फैसला देश को जोड़ने वाला है।
राज्‍य में हाई अलर्ट जारी
इस बीच केंद्र सरकार की ओर से देश के सभी राज्यों को जारी अलर्ट रहने की एजवाइजरी के बाद बिहार में भी एहतियातन हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस को निर्देश दिया है कि वह अनुच्‍छेद 370 हटाने को लेकर हो रहे जश्न की निगरानी रखे, ताकि असामाजिक तत्व जश्न की आड़ में हिंसा या तनाव न पैदा कर सके। हाई अलर्ट के मद्देनजर पुलिस संवेदनशील स्थानों पर नजर बनाए हुए है। खुफिया तंत्र को भी सक्रिय कर दिया गया है। सोशल साइट्स पर भी नजर रखी जा रही है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस