पटना, जेएनएन। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने एक जुलाई से शुरू हो रही 12वीं की परीक्षा में परीक्षार्थियों को बड़ी राहत दी है। लॉकडाउन के कारण परीक्षार्थी जिस जिले में हैं, वहीं परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। जुलाई के अंत तक रिजल्ट की घोषणा भी कर दी जाएगी, एेसी संभावना है।

लॉकडाउन में स्‍कूल छोड़ घर चले गए हैं परीक्षार्थी

सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने बताया कि काफी संख्या में परीक्षार्थी और अभिभावकों ने सूचना दी है कि वे लॉकडाउन के कारण स्कूलों के शहर को छोड़कर गृह जिले में चले आए हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित नवोदय विद्यालय और केंद्रीय विद्यालय के छात्र हैं। वहीं, स्कूल प्रबंधन कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए हॉस्टल खोलने को तैयार नहीं हैं।

जहां हैं वहीं दे सकेंगे परीक्षा, रिजल्‍ट भी जुलाई तक

उन्होंने बताया कि छात्रों की परेशानी को देखते हुए संबंधित जिले के परीक्षा केंद्र पर ही उपस्थित होने का निर्णय लिया गया है। कॉपियों के मूल्यांकन की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। जुलाई के अंत तक रिजल्ट की घोषणा संभावित है।

परीक्षार्थी स्कूल को देंगे अपना लोकेशन

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने सीबीएसई के निर्णय का स्वागत करते हुए इसे बच्चों के हित में बताया। उन्होंने कहा कि जो जिस जिले में हैं, उसे अपने स्कूल में इसकी सूचना देनी पड़ेगी, ताकि संबंधित जिले में परीक्षा देने की अनुमति दी जा सके। सीबीएसई इस संबंध में विस्तृत गाइडलाइन भी जारी करेगा।

होम सेंटर पर होंगी 12वीं की शेष परीक्षाएं

सीबीएसई पहले ही घोषणा कर चुका है कि 10वीं और 12वीं की शेष परीक्षाएं संबंधित स्कूलों में ही होगी। परीक्षा होम सेंटर पर ही होगी, ताकि उन्हें कम यात्रा करनी पड़े। दिल्ली को छोड़कर अन्य केंद्रों पर 10वीं की परीक्षाएं नहीं होंगी। राज्य में 12वीं के 12 विषयों की परीक्षाएं होनी हैं।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस