सारण [जेएनएन]। पूरे तामझाम के साथ दुल्‍हन के घर बारात पहुंची, लेकिन वहां दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। इसके बाद दूल्हे समेत सभी बराती भाग निकले। इससे दुल्हन भी नाराज हो गई। उसने बड़ा फैसला ले लिया। वह खुद ही बरात लेकर दूल्‍हे के घर पहुंच गई और दूल्‍हे से बोली कि अब शादी करो। फिर हाई वोल्‍टेज ड्रामा तो होना ही था। अंतत: समाजिक पहल पर बीती रात दोनों की मंदिर में शादी हुई। घटना बिहार के सारण जिले की है।

मारपीट के बार भाग गया दूल्‍हा

सारण के मांझी थाना क्षेत्र के फतेहपुर गांव निवासी मदन प्रसाद के पुत्र की बरात रिविलगंज थाना क्षेत्र के भादपा गांव में बृजनंदन प्रसाद के घर गई थी। द्वार पूजा के दौरान डांस में फरमाइशी गीत बजाने के लिए बारातियों व स्‍थानीय ग्रामीणों में मारपीट शुरू हो गई।

मारपीट के दौरान दूल्‍हा के भाई की भी पिटाई कर दी गई। इससे नाराज दूल्हे सहित सभी बाराती वापस लौट गए। इससे दुल्‍हन पक्ष परेशान हो गया। दोनों पक्षों के रिश्तेदारों के मान-मनौव्‍वल व समाजिक पहल के बाद भी दूल्‍हा बारात लेकर आने को तैयार नहीं हुआ।

बारात लेकर पहुंच गई दुल्‍हन

इस बातकी जानकारी जब दुल्हन पार्वती को हुई तो वह खुद ही घरवालों के साथ दूल्हे के घर पहुंच गई। दूल्‍हन के बारात लेकर दूल्‍हा के घर पहुंच जाने की बात जंगल की आग की तरह फैल गई। दुल्‍हन ने वहीं धरना दे दिया। थोड़ी देर में ही वहां भारी भीड़ इकट्ठी हो गई।

फिर, दूल्‍हा के घर के सामने दुल्‍हन के इस हाइ-वोल्‍टेज ड्रामा का अंत कराने के लिए समाजिक पहल हुई। इसके बाद गांव के श्रीराम जानकी मंदिर में दोनों की शादी हुई।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप