नलिनी रंजन, पटना : BPSC 64th Exam Final Result News:बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 64वीं परीक्षा के परिणाम में आरक्षण कैटगरी की एक त्रुटि के कारण तीन अभ्यर्थियों की सेवाओं में परिवर्तन हो गया। आयोग की ओर से छह जून को 64वीं संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा का अंतिम परिणाम जारी किया था। इसमें पद एवं सेवाओं के क्रम में संयुक्त उम्मीदवार सौरव अभिषेक के आरक्षण कोटी पिछड़ा वर्ग के स्थान पर सामान्य पढ़े जाने के कारण तीन अभ्यर्थियों के सेवा में बदलाव किया गया।

इस बाबत अधिसूचना आयोग के संयुक्त सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने जारी कर दी। ऐसे में अब अभ्यर्थी सौरव अभिषेक को आपूर्ति निरीक्षक की जगह राजस्व पदाधिकारी, कमलेश्वर नारायण को राजस्व पदाधिकारी की जगह ब्लाक पंचायत राज अधिकारी एवं आकाश तिवारी को ब्लाक पंचायत राज अधिकारी की जगह आपूर्ति निरीक्षक सेवा आवंटित की जाती है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि इस संशोधन के बाद परीक्षा में अंतिम रूप से चयनित उम्मीदवारों की कुल संख्या, कोटिवार कट-आफ अंक में कोई परिवर्तन नहीं होगा। आयोग पूर्व प्रकाशित परीक्षाफल में उपयुर्क्त त्रुटियों एवं परिणामी संशोधन के लिए खेद प्रकट किया है। ऐसे में सीधे तौर पर आरक्षण कैटगरी की एक त्रुटि के कारण तीन अभ्यर्थियों की सेवाओं में परिवर्तन हो गया है। 

छह जून को जारी किया गया था 64वीं का परिणाम

बता दें कि इसी महीने छह जून को बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 64वीं परीक्षा का परिणाम जारी किया था। रिजल्ट बिहार लोक सेवा आयोग इस परीक्षा का रिजल्‍ट अपनी आधिकारिक वेबसाइट (http://www.bpsc.bih.nic.in/) पर जारी किया था। इसमें 1454 छात्र सफल हुए थे। ओम प्रकाश गुप्‍ता टॉपर रहे थे। वहीं विद्यासागर, अनुराग आनंद, विशाल, शशांक बर्नवाल, अजीत कुमार, आलोक कुमार, निखिल कुमार, राघवेंद्र मणि त्रिपाठी और दीपक कुमार क्रमश: पहले से दसवें स्‍थान पर रहे थे। परीक्षा में 4,71,581 आवेदन आए थे। इसमें 2,95,444 अभ्यर्थी शामिल हुए थे। 

Edited By: Akshay Pandey