पटना [राज्य ब्यूरो]। आपातकाल लोकतंत्र पर सबसे बड़ा हमला था। कांग्रेस ने बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर के नेतृत्व में बने संविधान के साथ सबसे बड़ा खिलवाड़ किया था। आपातकाल, तानाशाही एवं लोकतंत्र विरोधी मानसिकता के खिलाफ आयोजित 'संकल्प सह जागरूकता सम्मलेन' के मौके पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने यह बात कही। गांधी मैदान स्थित जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर भाजपा नेताओं ने भारतीय लोकतंत्र की रक्षा के लिए जेपी के ऐतिहासिक योगदान को याद किया।

कांग्रेस की आलोचना करते हुए नित्यानंद राय ने कहा कि आपातकाल के विरोध में जनसंघ और देशभर के सामाजिक-राजनीतिक संगठनों के साथ समाजवादी लोगों ने भी लड़ाई लड़ी।  दुख की बात है कि लालू प्रसाद जैसे समाजवादी नेता आज उसी कांग्रेस की गोद में जाकर बैठ गए हैं।

राय ने कहा कि राममनोहर लोहिया ने कहा था कि जबतक कांग्रेस रहेगी भ्रष्टाचार खत्म नहीं हो सकता, क्योकि कांग्रेस भ्रष्टाचार की जननी है। 

कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने आपातकाल के दौरान दी गई यातनाओं को याद किया। कहा कि उन दिनों में आम जनजीवन सरकार के आदेश पर चल रहा था। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कांग्रेस को सबसे बड़ी संविधान विरोधी पार्टी करार दिया।

कार्यक्रम में भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष देवेश कुमार, प्रदेश महामंत्री राधामोहन शर्मा, विधायक डॉ. संजीव चौरसिया, प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह टाइगर, मीडिया प्रभारी राकेश सिंह एवं अशोक भट्ट, पटना भाजपा के प्रवीण कुमार, भाजयुमो के बिरजू झा के अलावा भाजपा के वरिष्ठ नेतागण, संगठन पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता  मौजूद थे। संचालन भाजपा के प्रदेश महामंत्री प्रमोद चंद्रवंशी ने किया।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस