पटना [जेएनएन]। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 12 जुलाई को सुबह 10 बजे पटना पहुंचें, जहां उनका स्वागत  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के पटना एयरपोर्ट पहुंचने पर बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय, बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, सह प्रभारी पवन शर्मा, सीआर पाटिल, राज्य सरकार में शामिल उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी और भाजपा कोटे मंत्रियों ने स्वगत किया। भाजपा के सभी सांसद, विधायक और प्रदेश पदाधिकारी बुक भेंट कर  स्वागत किया। 

उसके बाद वे वहां से स्टेट गेस्टहाउस में पहुंचे जहां उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ सुबह का नाश्ता किया। लगभग पैंतालिस मिनट चली उनदोनों के मुलाकात में क्या बात हुई? इसपर सबकी नजर है क्योंकि किसी को अभी तक कुछ अंदेशा नहीं कि दोनों के बीच चली बैठक में क्या बात हुई?

नाश्ते के बाद सीएम नीतीश कुमार को स्टेट गेस्टहाउस के बाहर तक छोड़ने के लिए अमित शाह खुद आए। नीतीश कुमार के चेहरे पर चिर-परिचित मुस्कुराहट थी।यहां से अमित शाह पटना के ज्ञान भवन जाएंगे। अब नीतीश कुमार से अमित शाह की मुलाकात रात के डिनर के साथ होगी। दोनों एक साथ डिनर करेंगे। 

पार्टी के तमाम प्रकोष्ठ व मोर्चा की ओर से यह तैयारी की गयी है। पिछले एक सप्ताह से पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में उनके दौरे को लेकर बैठकें चल रही थीं। उनके दौरे को लेकर पूरे पटना में तोरणद्वार बनाए गए हैं। खासकर एयरपोर्ट से गेस्ट हाउस और बापू सभागार तक के रास्ते को होर्डिंग व बैनरों से पाट दिया गया है।

ये है अमित शाह का मिनट टू मिनट प्रोग्राम
-अमित शाह शाह गुरुवार को सुबह दस बजे पटना एयरपोर्ट पहुंचे।

-वहां से वे स्टेट गेस्ट हाउस गए जहां उन्होंने नीतीश कुमार के साथ नाश्ता किया।

-बापू सभागार में 11.30 बजे से 12.30 बजे तक आयोजित सोशल मीडिया की बैठक में भाग लेंगे।

-ज्ञान भवन में 12.45 बजे से 1.45 बजे दोपहर तक विस्तारकों की बैठक में भाग लेंगे

-ज्ञान भवन परिसर में ही दोपहर का भोजन करेंगे

-दोपहर 2.30 बजे से 3.30 बजे तक शक्ति केंद्र प्रभारियों की बैठक बापू सभागार में होगी

-स्टेट गेस्ट हाउस में शाम 4 बजे से 7 बजे तक चुनाव तैयारी समिति की बैठक में भाग लेंगे

-स्टेट गेस्ट हाउस में ही रात्रि विश्राम करेंगे

-अगले दिन 13 जुलाई को सुबह दिल्ली के लिए प्रस्थान कर जायेंगे

उनके बिहार दौरे पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा था कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का बिहार दौरा ऐतिहासिक व भव्य होगा। उनके नेतृत्व में भाजपा देश ही नहीं दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक संगठन बनी है। यह पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए बड़े ही गर्व की बात है। स्वाभाविक तौर पर हम उनके स्वागत में कोई कोर कसर नहीं रहने देना चाहते हैं।’

 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस