पटना [जागरण टीम]। देश के उत्तरी भाग में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण बिहार भीषण ठंड की चपेट में है। बुधवार को नववर्ष का पहला दिन धुंध की चादर में लिपटा रहा। वहीं दोपहर में धूप ठीक निकली। लेकिन, शाम होते ही एक बार फिर मौसम ने करवट बदली और ठंड बढ़ गई। बताया जाता है कि पटना व समस्‍तीपुर के कुछ इलाकों में आंशिक बूंदाबांदी हुई है। वहीं बढ़ते ठंड को देखते हुए पटना में डीएम कुमार रवि ने चार जनवरी तक के लिए स्‍कूलों को बंद कर दिया है। पांच जनवरी को रविवार है। ऐसे में अब पटना में स्‍कूल छह जनवरी को खुलेंगे। यह सरकारी व गैरसरकारी, दोनों स्‍कूलों पर लागू होगा। बता दें कि पहले पटना के स्‍कूल महज दो जनवरी तक ही बंद करने की घोषणा हुई थी।  

पटना में बुधवार को न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 21.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। सुबह मामूली कोहरा के साथ हवा में नमी की मात्रा 93 फीसद दर्ज की गई। दिन में धूप निकलने के कारण कनकनी से थोड़ी राहत महसूस की गई। गया का न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री और अधिकतम 17.8 डिग्री सेल्सियस रहा। भागलपुर का न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री और अधिकतम 17.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। पूर्णिया का न्यूनतम तापमान 10.8 डिग्री और अधिकतम 20.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। 

गौरतलब है कि मंगलवार को दोपहर बाद पटना सहित कुछ इलाकों में धूप निकलने से थोड़ी राहत मिली थी, परंतु सूर्य अस्त होते ही दो घंटे के अंदर तापमान सात डिग्री सेल्सियस नीचे गिर गया। अागे तीन एवं चार जनवरी को मौसम विभाग ने पटना समेत आसपास के कई जिलों में बारिश की आशंका जताई है। इस बीच कड़ाके की ठंड से मौतों का सिलसिला जारी है। मंगलवार को प्रदेश में ठंड से पांच और लोगों की मौत हो गई।

मंगलवार को बिहार में गया सर्वाधिक ठंडा स्थान रहा। वहां न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री और अधिकतम तापमान 17.7 डिग्री सेल्सियस रहा। राजधानी पटना में अधिकतम तापमान 18.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य तापमान से चार डिग्री  कम था। पटना का न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस रहा। राजधानी में आद्रता 97 फीसद रिकार्ड की गई।

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि ठंड का कहर अभी जारी रहेगा। अगले एक सप्ताह तक सुबह घना कोहरा छाया रहेगा। डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा ( समस्तीपुर) के मौसम विभाग द्वारा मंगलवार को आगामी पांंच जनवरी तक के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान के अनुसार मौसम एक बार फिर करवट बदलेगा। इस दौरान उत्तर बिहार के तराई और मैदानी जिलों में गरज वाले हल्के से मध्यम बादल बन सकते हैं। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से दो -तीन जनवरी को हल्की वर्षा या बूंदाबांदी की आशंका है। उत्तर-पश्चिम बिहार के एक-दो स्थानों पर ओले भी पड़ सकते हैं। हवा की गति भी तेज रहेगी।  इस अवधि में अधिकतम तापमान 14 से 16 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। जबकि, न्यूनतम तापमान 5 से 7 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस