पटना, राज्य ब्यूरो । Bihar Politics:  प्रोटेम स्पीकर की कुर्सी पर बैठे थे समधी साहब और शपथ ले रहीं थी समधन। ऐसा नजारा बिहार विधानसभा में पहली बार दिखा । विधायकों की शपथ के दौरान इस तरह के रिश्ते का किस्सा इससे पहले नहीं दिखा था। विधानसभा के सेंट्रल हॉल में प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी ने शपथ ग्रहण के दूसरे दिन बाराचïट्टी से चुनकर आयीं ज्योति देवी का नाम पुकारा तो मामला समधी-समधन के रिश्ते का हो गया। वह जीतनराम मांझी की समधन हैं और उन्हीं के दल से जीतकर आयीं हैं। शपथ लेने के बाद बड़े ही सम्मान के साथ वह जीतनराम मांझी के आसन के समीप गयीं और अभिवादन किया।

पुराने दिग्गजों की दूसरी पीढ़ी व सगे ने भी ली शपथ

दूसरे दिन के शपथ ग्रहण समारोह इस मायने में भी खास रहा कि पुराने राजनीतिज्ञों की दूसरी पीढ़ी ने भी आज शपथ लिया। पूर्व केंद्रीय मंत्री दिग्विजय सिंह की पुत्री श्रेयसी सिंह का भी आज शपथग्रहण हुआ। इसके अतिरिक्त राजद के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मंत्री जगदानंद के पुत्र सुधाकर सिंह, पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह के पुत्र सुमित कुमार सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री कांति सिंह के पुत्र ऋषि कुमार, पूर्व मंत्री आदित्य सिंह का बहू नीतू कुमारी व पूर्व मंत्री राजवल्लभ यादव की पत्नी विभा देवी ने भी शपथ लिया।

पहले दिन 190 सदस्‍यों ने शपथ ली

 चुनाव जीतने वाले 243 सदस्यों में 190 सदस्यों ने बिहार विधानसभा के सदस्य के रूप में  पहले दिन 23 नवंबर (सोमवार) को शपथ ली। सेंट्रल हाल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में प्रोटेम स्पीकर जीतन राम मांझी ने विधायकों को विधानसभा की सदस्यता ग्रहण कराई। पहले दिन सबसे पहले उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद को शपथ दिलाई गई। उनके बाद उप मुख्यमंत्री रेणु देवी ने शपथ ली। दो उप मुख्यमंत्रियों के बाद विधानसभा क्रम के अनुसार सदस्यों का शपथ ग्रहण हुआ।

 सोमवार को शपथ लेनेवाले सदस्‍याें में से दो न्यायिक हिरासत में हैं। मंगलवार को शेष 53 सदस्यों को विधानसभा सदस्य के रूप में शपथ दिलाई गई। हालांकि 54 में से चार विधायक मोकामा से अनंत सिंह, गोपालपुर के नरेंद्र कुमार नीरज, जीरादेई के अमरजीत कुशवाहा व निर्मली के अनिरुद्ध प्रसाद यादव अनुपस्थित रहें। अनंत सिंह फिलहाल जेल में हैं। उन्‍होंने नामांकन भी जेल से ही किया था ।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021