पटना, आनलाइन डेस्क। राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर( Prashant Kishore) बिहार में सियासी बदलाव को लेकर कैंप कर रहे हैं। दो अक्टूबर से उनकी जन सुराज पदयात्रा की शुरूआत  चंपाररण के भितिहरवा गांधी आश्रम से होगी। इस बीच बीजेपी से नाता तोड़ निर्दलीय एमएलसी का चुनाव जीते सच्चिदानंद राय में यह ऐलान किया है कि वो प्रदेश में पीके का साथ देंगे और यात्रा में शामिल होंगे। उनका दावा है कि इस मुहिम के बाद 2025 में सियासी समीकरण भी बदलेगा। 

2025 में जनसुराज होगा पहला विकल्प

निर्दलीय एमएलसी ने कहा कि बिहार के लोग जात पात से ऊपर उठ चुके हैं। प्रशांत किशोर की सोच बिहार के बेहतरी के लिए है। उन्होंने दावा कि 2025 में जन सुराज पहला विकल्प होगा और लोकसभा चुनाव में सियासी समीकरण भी बदलेगा।

बीजेपी पर भी साधा निशाना

सच्चिदानंद राय का कहना है कि बिहार में राजनीतिक उथल-पुथल के बाद सियासी समीकरण बदल गया है। बिहार की जनता ने जो जनादेश दिया बीजेपी ने उसका हर बार अपमान किया। बिहार में बीजेपी का ऐसा कोई नेता नहीं है, जिसके नाम पर वो चुनाव लड़ सकते हैं। बीजेपी ने खुद को कमजोर कर लिया। जदयू और राजद में भी खींचतान साफ दिख रही है।

राय ने की प्रशांत किशोर की तारीफ

निर्दलीय एमएलसी सच्चिदानंद राय ने पीके की तारीफ की है और यह ऐलान किया है कि वो प्रशांत किशोरी की मुहिम का साथ देंगे। दो अक्टूबर से शुरू हो रही यात्रा में वो अपने करीब 100 समर्थकों के साथ शामिल होंगे। पहले दिन 12 किलीमीटर की यात्रा करुंगा। गोपालगंज,छफरा सिवान में जब यात्रा पहुंचेगी तो मैं सक्ग।सच्चिदानंद राय ने कहा है कि बिहार को पिछले 35 साल से एक स्वस्थ्य विकल्प की जरूरत थी। प्रशांत किशोर बिहार की प्रगति को लेकर अच्छी सोच रखते हैं और उनकी मुहिम 2025 में सियासी समीकरण को बदल सकती है। प्रशांत किशोर एक युवा बिहारी हैं। उन्होंने कई राज्यों में अपनी रणनीति की वजह से कई पार्टियों को जीत दिलाई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पीके की टीम बिहार में पंचायत स्तर पर काम कर रही है, जिसका परिणाम भी दिखेगा। 

Edited By: Rahul Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट