Move to Jagran APP

Bihar Panchayat By Election: पंचायत उपचुनाव की वोटिंग जारी, बखरी पंचायत की एक बूथ पर मतदान का बहिष्कार

Bihar Panchayat By Election पंचायती राज संस्थाओं के अंतर्गत 605 रिक्त पदों के लिए गुरुवार को सुबह सात बजे से वोटर मतदान डाल रहे हैं। ग्राम जिला परिषद मुखिया वार्ड सदस्यी ग्राम कचहरी सरपंच और पंच के विभिन्न पदों के लिए कुल 1961 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।

By Roma RaginiEdited By: Roma RaginiPublished: Thu, 25 May 2023 07:51 AM (IST)Updated: Thu, 25 May 2023 12:39 PM (IST)
Bihar Panchayat By Election: बिहार में पंचायत उपचुनाव की वोटिंग जारी

पटना, संवाददाता। बिहार में पंचायती राज संस्थाओं के अंतर्गत 605 रिक्त पदों के लिए उपचुनाव के लिए वोटिंग सुबह सात बजे से जारी है। मतदान शाम पांच बजे तक चलेगा।

वहीं, पटना जिले में सुबह के 9:00 बजे तक 11.16 प्रतिशत मतदान हुआ । कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

बता दें कि राज्य निर्वाचन आयोग ने 38 जिलों के 300 प्रखंडों में 3522 रिक्त पदों के लिए पंचायत उपचुनाव की घोषणा की थी, जिनमें 14 पर मतदान स्थगित हो गया तो 2083 पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हुआ।

इसके अलावा 820 पद रिक्त रह गए हैं। शेष 605 पदों के लिए आज ईवीएम से वोट पड़ रहे हैं। आगे मतगणना 27 मई को होगी।

उपचुनाव में ग्राम जिला परिषद, मुखिया, वार्ड सदस्यी, ग्राम कचहरी सरपंच और पंच के विभिन्न पदों के लिए कुल 1961 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। पटना की बात करें तो 11 प्रखंडों के 86 मतदान केंद्रों पर वोट डाले जा रहे हैं।

बता दें कि मतदाताओं की सुविधा के लिए टोल फ्री नंबर जारी किया गया है। राज्य निर्वाचन आयोग ने वोटरों के लिए टोल नंबर 18003457243 उपलब्ध कराया है।

मतदाता इस टोल फ्री नंबर पर कॉल कर चुनाव संबंधी जानकारी हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा इस टोल फ्री नंबर के माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

पूर्णिया के नौ प्रखंडों में वोटिंग जारी

पूर्णिया के नौ प्रखंडों में पंचायत प्रतिनिधि के विभिन्न रिक्त पदों के लिए उपचुनाव कराए जा रहे हैं। इसके लिए संबंधित प्रखंडों में 47 बूथ बनाए गए हैं।

राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिले में पंचायत आम निर्वाचन 2021 के पश्चात मृत्यु, त्यागपत्र और अन्य कारणों से 15 दिसंबर 22 तक हुए रिक्त हुए कुल 18 पदों के लिए उप चुनाव हो रहा है। इसमें डगरूआ में ग्राम पंचायत सदस्य के एक, बायसी में पंचायत समिति सदस्य एक, पंचायत सदस्य एक एवं ग्राम कचहरी के पंच के एक पद शामिल हैं।

वहीं, पूर्णिया पूर्व में समिति सदस्य एक, कसबा में पंचायत सदस्य दो, केनगर पंचायत सदस्य तीन व पंच एक, बनमनखी में पंचायत सदस्य एक, धमदाहा में सरपंच के एक, बीकोठी में पंच के दो, बीकोठी में पंच के दो और भवानीपुर में समिति सदस्य के एक पद के लिए चुनाव हो रहा है।

कटिहार में 19 पदों के लिए मतदान

कटिहार जिले की विभिन्न पंचायतों में 19 पदों के लिए मतदान हो रहा है। मुखिया के एक, पंचायत समिति तीन, वार्ड सदस्य 11, सरपंच तीन और एक पंच पद के लिए लोग अपने मतों का प्रयोग करेंगे।

लखीसराय में छह पदों के लिए मतदान

लखीसराय जिले में सूर्यगढ़ा, पिपरिया और लखीसराय प्रखंड में कुल छह पदों के लिए 28 केंद्रों पर मतदान हो रहा है। यहां मुखिया के एक, पंचायत समिति सदस्य के दो, ग्राम कचहरी पंच के दो और ग्राम पंचायत सदस्य के एक पद पर चुनाव हो रहा है।

भागलपुर जिले की 18 पंचायतों में मतदान हो रहा है। यहां पंचायत समिति सदस्य और मुखिया पद के लिए एक-एक, ग्राम पंचायत सदस्य के लिए नौ, ग्राम कचहरी सरपंच के लिए एक, ग्राम कचहरी पंच के आठ पदों के लिए लोग मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं।

मुंगेर जिले में कुल 63 पदों पर मतदान हो रहा है। इसमें ग्राम पंचायत मुखिया का एक पद, पंचायत समिति सदस्य का दो पद, ग्राम पंचायत सदस्य अर्थात वार्ड सदस्य का 11 और ग्राम कचहरी पंच का 39 पद शामिल हैं।

आजिमगंज पंचायत में शपथ ग्रहण से पहले हुई थी मुखिया की हत्या

धरहरा प्रखंड स्थित आजिमगंज पंचायत में मुखिया पद के लिए चुनाव संपन्न कराया जाएगा। आजिमगंज पंचायत के मुखिया पद पर निर्वाचित परमानंद टुड्डू की 23 दिसंबर 2021 को शपथ ग्रहण से पहले ही गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। इस कारण मुखिया का पद रिक्त हो गया था। इस कारण यहां मुखिया पद के लिए उप चुनाव हो रहा है।

(नक्सल प्रभावित धरहरा प्रखंड की अजीमगंज पंचायत में मतदान के दौरान तैनात पुलिस जवान)

दूसरी ओर पंचायत समिति के दो पद क्रमश बरियारपुर के नीरपुर व संग्रामपुर प्रखंड के बढ़ौनियां के लिए निर्वाचन प्रक्रिया संचालित की जानी है। जिले के सभी नौ प्रखंडों के विभिन्न पंचायतों में ग्राम कचहरी पंच के कुल 59 पद रिक्त हैं।

इसमें से 90 प्रतिशत वैसे पद हैं, जिस पर किसी भी व्यक्ति ने नामांकन ही नहीं दाखिल किया था। इसके कारण यह पद रिक्त रह गया था। ऐसे में इन रिक्त पदों के लिए भी उप चुनाव के तहत मतदान होगा।

सदर प्रखंड में पांच, जमालपुर में 10, धरहरा में दो, बरियारपुर में पांच, हवेली खड़गपुर में 14, टेटिया बंबर में आठ, असरगंज में दो, तारापुर में चार और संग्रामपुर प्रखंड में पंच सदस्य के पांच पदों के लिए वोटिंग जारी है।

अररिया में 67 बूथ और दो सहायक मतदान केंद्र बनाए गए

अररिया जिले की विभिन्न पंचायतों में 25 मई को कुल 25 पदों के लिए मतदान हो रहा है। इनमें सरपंच के लिए तीन, पंचायत समिति एक, ग्राम पंचायत सदस्य 14 पंच के लिए सात पद शामिल है। 67 बूथ और दो सहायक मतदान केंद्र बनाया गया है।

बांका जिले में 100 सीटों पर पंचायत उपचुनाव होगा। इसमें एक सरपंच, एक पंसस, 85 पंच और 13 वार्ड सदस्य पद के लिए मतदान हो रहा है।

जमुई में 66 सीटों पर पंचायत उपचुनाव के लिए अधिसूचना जारी हुई थी। तीन को छोड़ सभी 63 पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हो गया। अलीगंज प्रखंड अंतर्गत एक मुखिया, एक सरपंच और एक वार्ड सदस्य पद के लिए वोट डाले जा रहे हैं।

किशनगंज में 39 पदों पर उपचुनाव

किशनगंज में 13 पदों के लिए मतदान हो रहा। इसमें एक जिला परिषद सदस्य सहित 13 अन्य पदों के लिए 70 बूथों पर 43637 मतदाता मतदान करेंगे। जिले में कुल 39 रिक्त पदों पर पंचायत उपचुनाव होना था। चुनाव की सभी प्रक्रिया के दौरान 26 पदों पर उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए।

सहरसा जिले में 19 पंच और एक ग्राम पंचायत सदस्य का पद निर्विरोध होने के बाद दो मुखिया और नौ ग्राम पंचायत सदस्य का उपचुनाव हो रहा है। इसमें 35 प्रत्याशी मैदान में हैं। मधेपुरा जिले की विभिन्न पंचायतों में कुल 14 पदों के लिए मतदान हो रहा है। इनमें सरपंच के एक, पंच के तीन तथा वार्ड सदस्य के 10 पद शामिल हैं।

नवादा में सुबह से ही मतदान केंद्र पर लगी लंबी लाइन

नवादा जिले में आज 117 बूथों पर पंचायत उपचुनाव को लेकर मतदान हो रहे हैं। मुख्य रूप से नारदीगंज प्रखंड में जिला परिषद के 1 सीट के लिए उपचुनाव हो रहा है।

नारदीगंज, जिला पार्षद उपचुनाव में सभड़ी गांव स्थित विद्यालय में मतदान केंद्र संख्या 118 पर वोट देने के लिए सुबह से ही मतदाता पहुंच गए। सुबह नौ बजे तक 12 प्रतिशत वोटिंग हुई।

मतदाता सूची में गड़बड़ी को लेकर मतदान का बहिष्कार

सीतामढ़ी जिले के बथनाहा प्रखंड अंतर्गत बखरी पंचायत स्थित बूथ संख्या 105 पर मतदाताओं ने मतदान का बहिष्कार कर दिया है। वे वोट देने नहीं आए।

स्थानीय लोगों की शिकायत है कि गांव के कई लोगों का नाम बगल के रनौली पंचायत में जोड़ा गया है। जबकि रनौली पंचायत के लोगों का नाम बखरी पंचायत में है। मतदाता सूची की यह गड़बड़ी कई सालों से है।

हालत यह है कि वर्तमान वार्ड पार्षद, सचिव और गांव के चौकीदार का नाम भी दूसरे पंचायत की मतदाता सूची में है। इससे नाराज होकर लोग वोट डालने पहुंचे ही नहीं। सूचना पर प्रशासन के आला-अधिकारी गांव में पहुंचे और लोगों को मनाने में जुटे हुए हैं।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.