भागलपुर [जेएनएन]।सूबे के उत्पाद एवं मद्य निषेध मंत्री अब्दुल जलील मस्तान ने कहा है कि शराबबंदी के बाद अगर पर्यटक बिहार नहीं आएंगे तो अच्छा है। वे आकर बिहार को गंदा कर देते हैं।

उत्पाद मंत्री शनिवार की देर रात जिला अतिथि गृह में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है और लागू रहेगी। मजबूत कानून से ही पूर्ण शराबबंदी सफल होगी। कानून यदि कमजोर होगा तो शराब पर प्रतिबंध लगाना मुश्किल हो जाएगा।

उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि किसी भी हाल में दूसरे राज्यों से शराब पीकर या साथ लेकर बिहार की धरती से गुजरने वाले किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। शराबबंदी के बाद विदेशी पर्यटकों के बिहार भ्रमण में आई कमी के संबंध में उन्होंने कहा कि अच्छा है,अब पर्यटक नहीं आएंगे। वे यहां आकर गंदगी फैलाते हैं।

मंत्री ने कहा कि सरकार अपने फैसले पर अडिग है। मुख्यमंत्री की मंशा है कि शराबबंदी कारगर तरीके से लागू हो। यदि इसमें कोई अड़चन आएगी तो उसे दूर करने का काम राज्य सरकार करेगी। उन्होंने इस बात को दोहराया कि शराबबंदी लागू होने से राज्य की गरीब जनता के घर धीरे-धीरे खुशहाली लौटने लगी है। शराब से भले ही अमीरों को नुकसान न हुआ हो, लेकिन कई गरीबों के घर उजड़ चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने अपनी चुनावी यात्रा में भी शराबबंदी का वादा किया था जिसे पूरा किया गया। हालांकि रविवार को पटना में पर्यटकों से संबंधित बयान के बारे में पूछे जाने उत्पाद मंत्री ने कहा कि उन्होंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है।

Posted By: Kajal Kumari