जागरण संवाददाता, पटना : Bihar Board News बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने मैट्रिक एवं इंटर के छात्रों को दोबारा पंजीयन कराने का मौका प्रदान किया है। वर्तमान में पंजीयन कराने वाले छात्र 2022 में इंटर की परीक्षा में शामिल होंगे। छात्रों को पंजीयन शुक्रवार को शुरू हो गया, जो 15 जुलाई तक चलेगा। इसके पहले इंटर के छात्रों को पिछले वर्ष 11 नवंबर एवं नौवीं के छात्रों को इसी वर्ष 16 फरवरी तक पंजीयन का मौका दिया गया था, लेकिन कुछ छात्र कोरोना एवं अन्य कारणों से अभी तक पंजीयन नहीं करा पाए हैं।

इस वर्ष बोर्ड ने आनलाइन पंजीयन की सुविधा भी

बोर्ड उन्हें दोबारा मौका दे रहा है। इस वर्ष बोर्ड ने आनलाइन पंजीयन की सुविधा भी दी है। बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि केवल मान्यता प्राप्त स्कूल-कालेजों के प्राचार्य आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। जिन विद्यालयों एवं कालेजों की मान्यता समाप्त कर दी गई है, उन्हें फार्म भरने की अनुमति नहीं है। 

मैट्रिक के नियमित कोटि के छात्रों को देना होगा 220 रुपये शुल्क 

नियमित कोटि के छात्रों को 220 रुपये पंजीयन शुल्क देना होगा। वहीं स्वतंत्र कोटि के छात्रों के लिए 320 रुपये शुल्क निर्धारित किया गया है। बोर्ड की ओर से आनलाइन पेमेंट की व्यवस्था की गई है। ई-चालान से भी भुगतान किया जा सकता है। इसके अलावा डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग के माध्यम से भी भुगतान किया जा सकता है। 

मैट्रिक के 14 वर्ष से कम उम्र के छात्र नहीं भर सकते फार्म 

बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि मैट्रिक का पंजीयन फार्म कोई भी छात्र 14 वर्ष से कम होने पर नहीं भर सकता है। 14 वर्ष से ऊपर के छात्र ही पंजीयन के योग्य होंगे। 

पंजीयन की मान्यता तीन परीक्षा के लिए 

बोर्ड का कहना है कि कोई भी परीक्षार्थी एक बार पंजीयन कराता है तो उसके आधार पर अगले तीन वर्षों तक परीक्षा दे सकता है। उसे बार-बार पंजीयन कराने की जरूरत नहीं होगी। 

Edited By: Akshay Pandey