पटना, जेएनएन। नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill) के खिलाफ राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) की ओर से बिहार बंद का आह्वान किया गया है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने 21 दिसंबर को बिहार बंद के लिए लोगों से समर्थन देने की अपील की है। इस बाबत उन्‍होंने शुक्रवार की रात ट्वीट किया। आरजेडी सूत्रों की मानें तो इसके लिए जिलास्‍तर पर संपर्क शुरू हो गया है।

पहले तेजस्‍वी ने शुक्रवार की रात किए गए अपने ट्वी ट में कहा कि संविधान की धज्जियां उड़ाने वाले नागरिकता संशोधन बिल जैसे काले कानून के खिलाफ राष्ट्रीय जनता दल 22 दिसंबर (रविवार) को बिहार बंद करेगा। हम सभी संविधान प्रेमी, न्यायप्रिय, धर्मनिरपेक्ष दलों, ग़ैर-राजनीतिक संगठनों और आम जनमानस से अपील करते हैं कि बढ़-चढ़कर इसे सफल बनाने में सहयोग दें।

लेकिन बाद में तिथि में बदलाव करते हुए बिहार बंद 21 दिसंबर को कर दिया। तेजस्‍वी ने इसका कारण 22 दिसंबर को होने वाली बिहार पुलिस बहाली की परीक्षा को बताया।

गौरतलब है कि पिछले दिनों नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ बिहार महागठबंधन ने पटना में धरना दिया था। इसमें महागठबंधन में तमाम दलों के नेताओं ने शिरकत की थी। नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव के अलावा कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा, हम के दानिश रिजवान, वीआइपी के मुकेश सहनी समेत तमाम नेता मौजूद रहे। सभी नेताओं ने शपथ भी खाई थी कि कैब व एनआरसी का विरोध करेंगे। 

खास बता कि आज ही तेजस्‍वी के पिता लालू प्रसाद यादव ने भी कैब को लेकर इमोशनल ट्वीट किया है। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर चल रही बयानबाजी के बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के ट्विटर हैंडलर पर उनकी ओर से चार लाइन का एक शेर पोस्ट किया है। शेर है- अभी आंखों की शमाएं जल रही हैं, उसूल जिंदा है, आप लोग मायूस मत होना अभी बीमार जिंदा है, हजारों जख्म खाकर भी मैं दुश्मनों के मुकाबिल हूं, खुदा का शुक्र अब तक दिल-ए-खुद्दार जिंदा है।

लालू प्रसाद के इस पोस्ट के साथ उनके एक पुराने भाषण के वीडियो को भी डाला गया है। उक्त वीडियो में लालू प्रसाद मुसलमानों के लिए बातें कर रहे हैं। अकलियत की हिफाजत की बात करते हुए वह कह रहे कि उनके खिलाफ षडयंत्र हो रहा है।  

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस