पटना, जेएनएन। Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग (First Phase Voting) 28 अक्टूबर को हो रही है। राजनीतिक दल चाहे जितना प्रचार कर लें, हार-जीत तो मतदाता (Voter) अपने वोट से तय करते हैं। लेकिन वोट देने के लिए पहली शर्त यह है कि आपका नाम वोटर लिस्‍ट (Voter List) में दर्ज हो। वोटर के लिए यह जरूरी है कि वह जाने कि वोट कैसे देना है। खास कर पहली बार वोट देने जा रहे युवा मतदाताओं (First Time Young Voters) के लिए यह जानकारी बेहद जरूरी है। आइए जानें, कैसे देते हैं वोट।

मतदान केंद्र पर वोट डालने के पहले की प्रक्रिया

मतदान के दिन मतदान केंद्र जाने पर मतदान अधिकारी मतदाता सूची में आपका नाम देख कर नाम काे आइडी प्रूफ से मिलाएंगे। इसके बाद दूसरे मतदान अधिकारी आपकी अंगुली में निशान लगा कर एक पर्ची देंगे और एक रजिस्‍टर पर हस्‍ताक्षर कराएंगे। इसके बाद तीसरे मतदान अधिकारी के पास आपको उस पर्ची को जमा कराना होगा। वो आपकी स्‍याही लगी अंगुली देखने के बाद मतदान के लिए जाने की अनुमति देंगे।

जानिए, कैसे दें ईवीएम व वीवीपैट से वोट

नियत स्‍थान पर इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) रखी होगी, जहां आपको जाना होगा। वहां आप अपनी पसंद के उम्‍मीदवार के चुनाव चिह्न के सामने ईवीएम का बटन दबाकर अपना वोट देंगे। बठन दबो हीं बीप की आवाज सुनाई पड़ेगी। इसके बाद वीवी पैट मशीन (VVPAT) के पारदर्शी विंडो में सात सेकेंड तक उम्‍मीदवार के सीरियल नंबर, नाम और सिंबल के साथ पर्ची दिखाई देगी। उसकी जांच कर लें।

उम्‍मीदवार पसंद नहीं तो दबाएं नोटा का बटन

यह तो हुई पसंद के उम्‍मीदवार को वोट देने की बात। लेकिन अगर आप किसी भी उम्‍मीदवार को पसंद नहीं करते हैं तो आप नोटा (NOTA) का बटन दबा सकते हैं। यह ईवीएम पर अंतिम बटन होता है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस