पटना, जागरण टीम। Bihar Politics बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने कुशेश्‍वरस्‍थान और तारापुर सीट पर अपना दावा कर दिया है। हालांकि कहा यह भी है कि अंतिम निर्णय महागठबंधन को करना है। उपचुनाव की तारीख का एलान होते ही सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। दोनों सीटों पर 30 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे। बड़ा बयान देते हुए आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने मंगलवार को पटना में कहा है कि हम कुशेश्‍वरस्‍थान और तारापुर सीट जीतकर बिहार में सरकार बना लेंगे। लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव राज्य के नए मुख्यमंत्री होंगे और नीतीश कुमार को सीएम पद से इस्तीफा देना होगा। 

राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि राजद की कुशेश्‍वरस्‍थान और तारापुर पर दावेदारी है पर अंतिम निर्णय महागठबंधन के नेताओं के साथ बैठक के बाद लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दोनों सीटें महागठबंधन के पास आए इसके लिए हम चाहते हैं कि राजद के उम्मीदवार चुनाव लड़ें। मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि कुशेश्‍वरस्‍थान और तारापुर हम जीत जाते हैं तो बिहार में सरकार बनाने में हम सफल होंगे। तेजस्वी यादव बिहार के सीएम बनेंगे और नीतीश कुमार को इस्तीफा देना होगा। विशेष राज्य के दर्ज पर राजद प्रवक्ता ने कहा कि तेजस्वी यादव तो पहले से ही कह रहे हैं कि नीतीश कुमार थक चुके हैं। अब तो जदयू भी सरेंडर कर चुका है। 

जदयू हो गया है एक्सपोज

मृत्युंजय तिवारी ने नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कहा कि जो पटना विश्वविद्यालय को सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्ज नहीं दिला पाए वो विशेष राज्य की मांग कहां से पूरा कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि अब यह साफ हो चुका है कि जदयू विशेष राज्य के मुद्दे पर राजनीति कर रहा था। एनडीए सरकार को बिहार की 13 करोड़ की जनता की फिक्र नहीं है। अब सबकुछ साफ-साफ हो गया है। विशेष राज्य को लेकर ही सही जदयू पूरी तरह से एक्सपोज हो गया है। 

Edited By: Akshay Pandey